क्या जीएसटी पड़ सकता है जेब पर और भारी


जीएसटी को लेकर कर्ई लोगो के मन में बहुत से सवाल चल रहे होंगे। लेकिन कई लोगों के मन में यह सवाल चल रहा होगा कि जीएटी आने से मंहगार्ई बढ़ेगी और कर्ई लोग इसके समर्थन में नहीं है। जीएटी आने के बाद घरेलू सामान मंहगा हो जाएगा । लेकिन आपको बता दें ऐसा वास्तव में नहीं है। 1 जुलाई से जीएसटी लागू होने के बाद कई चीजे जैसे स्टेशनरी समान,एलपीजी ,एल्यूमीनियम फॉइल ,अगरबत्ती आदि सस्ते हो जाएंगे। इन पर लगने वाला टैक्स काम हो जएगा । इसमें बस एक ही टैक्स देना होगा।

वैट

source

सेन्‍ट्रल एक्‍साइज ड्यूटी रेट्स, एम्‍बेडेड सेन्‍ट्रल एक्‍साइज ड्यूटी रेट्स, सर्विस टैक्‍स पोस्‍ट-क्‍लीयरेंस एम्‍बेडिंग,और सीएसटी के मामलों में कर घटना, प्रवेश कर और अन्‍य शामिल होते हैं।

1जुलार्ई से लागू होगा जीएटी:

source

जीएसटी दर, केन्‍द्रीय और राज्‍य सरकारों की संयुक्‍त जिम्‍मेदारी होगी, जब इसे जीएसटी काउंसिल से अनुमोदन प्राप्‍त हो जाएगा।

कम होगीं दरें

source

घरेलू सामग्रियों पर जीएसटी लागू होने के बाद रहत मिलने की संभावना है। इसे लागू होने के बाद, मिल्‍क पाउडर, दही, छाछ, शहद, डेयरी स्‍प्रेड, चीज, चाय, चावल, गेंहू व मसाले आदि सामान सस्‍ता हो जाएगा।

इन वास्तुओं की कीमत घटेगी

source

सूरजमुखी तेल, नारियल तेल, सरसों का तेल, चीनी, पाल्मीरा गुड़, चीनी मिठाई, पास्ता, स्पेगेटी, मैक्रोनी, नूडल्स, फल और सब्जी आइटम, कई खाद्य उत्पादों जैसे – अचार, मुरुब्‍बा आदि पर भी कीमतें गिर जाएगी।

उत्पाद साम्रगी

source

वित्‍त मंत्री के द्वारा एक सूची जारी की गई है जिसमें कुछ वस्‍तुओं के बारे में बताया गया है कि वो कितनी कीमत के हो जाएगे। इनमें से टूथपेस्‍ट, काजल, साबुन आदि दैनिक इस्‍तेमाल वाली सामग्रियां शामिल हैं।

देना होगा टैक्स कम

source

नया कर, प्लास्टिक की तिरपाल, स्कूल बैग, बच्चों की ड्राइंग या रंग भरने वाली किताबें और विशिष्ट रेडीमेड कपड़ों पर भी कम है, साथ ही इसमें 500 रूपए तक के जूते व हेलमेट भी शामिल हैं।

और क्या होगा सस्ता

source

फ्लाई राख ईटें, करेक्टिव स्‍पेक्‍टल्‍स के ग्‍लासेस, एलपीजी स्‍टोव, स्‍पून, फोर्क, लैडल्‍स, केक सर्वस, फिश, चाकू आदि पर भी कर दर कम होगी और ये लोगों को सस्‍ती कीमतों पर मिलेंगे।