8 महीने की गर्भवती महिला 150 फीट गहरी खाई में गिरी और फिर हुआ चमत्कार


कई बार ऐसे चमत्कार देखने को मिल जाते है की आँखों पर विश्वास करना मुश्किल हो जाता है। ऐसा ही कुछ हुआ पुणे के सिंहगड किले में जहां पर 8 महीने की गर्भवती 150 फुट ऊंचाई से गिरकर भी सकुशल बच गई। वहां मौजूद लोगों को यकीन नहीं हो पाया की इतनी ऊंचाई से गिरने के बाद भी ये महिला बच कैसे गयी। लोग इसे अब चमत्कार ही कह रहे है।

घटना उस वक्त की है जब ये महिला अपने पति के साथ सिंहगड किले में घूमने आई और वहां पर तस्वीरें ले रही थी। एक सेल्फी लेने के लिए ये महिला सुरक्षा रेलिंग से थोड़ा आगे निकली लेकिन ये इनके लिए काफी खतरनाक साबित हुआ।

इसी दौरान इस गर्भवती महिला का पैर फिसला और और वो सीधे खाई में जा गिरी। जब लोग नीचे पहुंचे तो इस महिला को सकुशल देख सब हैरान रह गए, यहाँ तक की महिला के साथ पेट में पल रहा उसका बच्चा पूरी तरह से सुरक्षित है।

इन 28 वर्षीय महिला का नाम प्रणिता इंगले बताया जा रहा है जो अपने पति और भाई के साथ इस किले में घूमने आयी थी। महिला के गिरते ही उनके पति और भाई के होश उड़ गए थे। उन्होंने बताया की उन्हें उम्मीद नहीं थी की इस हादसे में महिला की जान बच जाएगी ,ये भगवान की कृपा ही है जिसमें महिला की जान बच गई।

माना जा रहा है की प्रणिता जहां नीचे गिरी वहां काफी घनी झाड़िया और पेड़ होने की वजह से प्रणिता उसमें ही लटक गई थी। स्थानिक नागरिकों की मदद ड़ेढ घंटे के बाद सकुशल बाहर निकाला गया और तुरंत हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। उपचार के बाद डॉक्टरों ने बताया कि प्रणिता और उसका बच्चा बिल्कुल सुरक्षित है।

सिंहगढ़ किले के सुरक्षा स्टाफ ने बताया है की बारिश के मौसम में लैंडस्लीडिंग होने की वजह से इस तरह के हादसे होने का खतरा रहता है और आने वाले पर्यटकों को ख़ास सुरक्षा रखने की भी चेतावनी दी जाती है। लेकिन कई बार असावधानी के कारण यात्री अपनी जान जोखिम में डाल देते है।