बैंकों को ढाई हजार करोड़ से अधिक का चूना लगाने वाला घोटालेबाज अमित भटनागर ‌‌गिरफ्तार


अहमदाबाद :  कई सरकारी व गैर सरकारी बैंकों को ढाई हजार करोड़ से अधिक का चूना लगाने वाले अमित भटनागर को सीबीआई ने गिरफ्तार कर लिया है। सह-आरोपी उसके पिता सुरेश भटनागर व भाई सुमित भटनागर पर भी गिरफ्तारी की तलवार लटक हुई है। अमित वडोदरा महानगर पालिका का स्वच्छता अभियान को ब्रांड एम्बेसडर बनाया गया था।

सरकारी समारोहों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, ऊर्जा मंत्री सौरभ पटेल आदि के साथ नजर आने वाले अमित भटनागर अपने रसूख का फायदा उठाकर बैंकों से करोड़ों रुपए उठाकर बैंक अधिकारियों की मिलीभगत से उसमें से अधिकांश रकम राइट आॅफ करा लेता था।

अमित उसके भाई सुमित व पिता व समूह के संस्थापक सुरेश भटनागर पर 11 विविध सरकारी व गैर सरकारी बैंकों को 2655 करोड रुपयों का चूना लगाने का आरोप है। गत गुरुवार को ही केन्द्रीय जांच ब्यूरो ने गुरुवार को डायमंड पॉवर इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड के संस्थापक सुरेश नारायण भटनागर, उसके पुत्र व प्रबंध निदेशक अमित भटनागर, सुमित भटनागर के आवास व फैक्ट्रियों पर छापा मारकर कई अहम दस्तावेज जुटाऐ थे। वर्ष 2008 से 2018 के बीच फर्जी दस्तावेज, बैंक खातों व कंपनी की बैलेंस सीट के जरिए भटनागर बंधु सरकारी व गैरसरकारी बैंकों से अलग-अलग लोन उठाते गए। बैंक आॅफ इंडिया से करीब 670 करोड, बैंक आॅफ बडौदा के 349 करोड़, आईसीआईसीआई के 280 तथा एक्सिस बैंक के 255 करोड़ रुपए इन्होंने लोन के जरिए हड़प लिए।

सीबीआई ने आपराधिक षडयंत्र, बैंक से धोखाधड़ी, जाली दस्तावेज व बैंक खाते के जरिए इस घोटाले को अंजाम देने का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर शनिवार को अमित को गिरफ्तार कर लिया अन्य आरोपियों के भी शीघ्र पकडे जाने की आशंका है।

 

हमारी मुख्य खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें।

Choose A Format
Poll
Voting to make decisions or determine opinions
Story
Formatted Text with Embeds and Visuals
List
The Classic Internet Listicles
Video
Youtube, Vimeo or Vine Embeds
Thanks for loving our story. Like our Facebook page to get more stories.