तेजस्वी की शह पर हुआ पत्रकारों पर हमला


पटना: पत्रकारों पर हमला उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव की शह पर हुआ है। लालू प्रसाद के कुनबे पर जांच एजेंसियों की कार्रवाई के बाद से ही तेजस्वी समेत राजद के तमाम नेता हर लोकतांत्रिक आवाज को बंद करना चाह रही है।  मीडिया पर हमले का प्लान तो तेजस्वी ने ही खुलेआम पत्रकारों से बदतमीजी कर तैयार कर दिया था। उपमुख्यमंत्री के सुरक्षाकर्मियों की ऐसी हरकत निंदनीय है।

सीबीआई के छापेमारी के दिन भी तेजस्वी द्वारा महिला मीडियाकर्मी से बदतमीजी करना तथा बाहर निकालना दर्शाता है कि तेजस्वी के इशारे पर ही मीडियाकर्मियों के साथ मारपीट तथा बदसलुकी किया गया। बुधवार की घटना से साफ है कि सुरक्षाकर्मियों को शह देकर पत्रकारों व मीडियाकर्मियों पर हमला कराया गया है।

बिहार में राजनीतिक अस्थिरता और सत्ता से दूर होने की आशंका मात्र से लालू का पूरा कुनबा पुरी तरह बौखला गया है। जांच एजेंसियों की कार्रवाई के बाद अब सूबे की सत्ता से भी बेदखल होने की कल्पना से तेजस्वी समेत लालू का पूरा परिवार भीतर से डर गया है, इसी डर के कारण झुंझलाहट में मीडिया से भिडऩे लगे हैं।