हरेली से मिलती है हरियाली की प्रेरणा


रायपुर: मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रदेशवासियों को कृषि प्रधान छत्तीसगढ़ के लोक जीवन के प्रमुख पर्व ‘हरेली’ की हार्दिक बधाई दी है। बधाई संदेश में कहा-बारिश और खेती-किसानी के मौसम में श्रावण महीने की अमावस्या के दिन मनाया जाने वाला हरेली का त्यौहार वास्तव में अपने नाम के अनुरूप हमारे जीवन में ‘हरियाली’ का संदेश लेकर आता है। उन्होंने कहा-हमें अपने गांव, अपने शहर, अपने राज्य और अपने देश में हरियाली की रक्षा के लिए जल-जंगल और जमीन की रक्षा करने और अधिक से अधिक संख्या में पौधारोपण करने की प्रेरणा मिलती है।

यह हमारे जीवन में ‘हरियाली’ के महत्व को भी प्रदर्शित करता है। डॉ. रमन ङ्क्षसह नेे कहा- किसान हरेली के दिन जहां खेती के लिए उपयोगी नांगर, गैंती, फावड़ा आदि उपकरणों की पूजा करते हैं, वहीं इस दिन बैलों की भी पूजा की जाती है, जो पशुधन के प्रति किसानों के आत्मीय जुड़ाव का प्रतीक है। यह मेहनतकश किसानों की आस्था, उनके उत्साह और विश्वास का भी एक प्रमुख पर्व है। बच्चे और युवा हरेली के दिन ‘गेड़ी’ का भी आनंद लेते हैं।

मुख्यमंत्री ने हरेली के पावन अवसर पर छत्तीसगढ़ सहित पूरे देश में किसानों की बेहतरी के लिए ईश्वर से अच्छी बारिश और अच्छी फसल की प्रार्थना की है। उन्होंने सभी लोगों से हरेली के दिन ‘हरियर छत्तीसगढ़’ पौधारोपण महा अभियान की भावना के अनुरूप छत्तीसगढ़ को हरा-भरा बनाने का संकल्प लेने, अधिक से अधिक संख्या में पौधे लगाने और लगाए गए पौधों की बेहतर देखभाल करने की भी अपील की है।