विधानसभा का मानसून सत्र ढाई दिन में ही समाप्त


रायपुर: विधानसभा का मानसून सत्र समाप्त हो गया है। विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल ने अनिश्चितकालीन के लिए स्थगित कर दिया। कांग्रेस ने पहले किसान के मुद्दे पर सदन में जमकर हंगामा किया। इसके बाद कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल और मुख्यमंत्री डा.रमन सिंह पर निशाना साधते हुए हंगामा किया। हंगामे के देखते हुए विधासनभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया। विधानसभा का मानसून सत्र 11 अगस्त तक होना था। लेकिन इसके पहले ही सत्र समाप्त कर दिया गया है।

इसके पहले सरकार ने गुरुवार 1 हजार 777 करोड़ 57 लाख 24 हजार 453 रुपए का अनुपूरक बजट पास करा लिया। वहीं विनियोग विधेयक पास कर लिया। विपक्ष ने पहले बृजमोहन अग्रवाल और फि र सीधे डॉ रमन को निशाने पर लेते हुए अब तक की सारी व्यवस्था को धता बताते हुए विरोध का जो रवैया दिखाया है उसे देखते हुए विधानसभा का पावस सत्र जो कि 11 अगस्त तक चलना था। उसे निर्धारित समय से बहुत पहले समाप्त कर दिया गया है।

सरकार ने आज एक हजार सात सौ सतहत्तर करोड़ संतावन लाख चौबीस हज़ार चार सौ तिरपन रुपए का अनुपूरक बजट पास करा लिया, विनियोग विधेयक पास कर लिया।

इसके अलावा महत्वपूर्ण संशोधन विधेयक भी पेश कर दिए गए हैं जो विपक्ष के अनवरत हंगामे के बीच पारित हो गए। इस तरह से सरकार ने जितने महत्वपूर्ण काम जो सदन से जुड़े थे, वे आज ही निपटा लिए है। भ्रष्टाचार के मुद्दे पर आक्रामक विपक्ष ने पहले दिन से ही सदन में हंगामा कर रखा है प्रश्नकाल तक बाधित रहा।

विधानसभा में सरकार की अनुपूरक बजट समेत संशोधन विधेयक और अनुदान को आनन फानन में पेश करने से विपक्ष को यह समझने में देर ना लगी कि सरकार सत्र का जल्द अवसान कर सकती है, यही वजह है कि विपक्ष आज बेल से हटने के लिए आसंदी के कई आग्रहों के बावजूद बना रहा।