पंचायत चुनाव हिंसा के खिलाफ कांग्रेस और वामदल ने विरोध प्रदर्शन किया 


Congress

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में आसन्न पंचायत चुनावों के नामांकन के दौरान हुई कथित हिंसा के विरोध में कांग्रेस की प्रदेश इकाई और वाम मोर्चा ने शहर में दो अलग अलग स्थानों पर विरोध प्रदर्शन का आयोजन किया । वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं एवं विधायकों ने रानी राशमोनी रोड पर यहां एक दिन का उपवास रखा । ये लोग अपने हाथों में तख्तियां लिए हुए थे और राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे । प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अधीर चौधरी ने कहा , ‘‘ राज्य सरकार पंचायत चुनावों का तमाशा बनाना चाहती है । इससे पहले कभी भी विपक्षी दलों ने ऐसी स्थिति का सामना नहीं किया जहां उन्हें सत्तारूढ़ दल की तरफ से पर्चा दाखिल नहीं करने दिया गया हो । ’’ उन्होंने कहा , ‘‘ अगर तृणमूल कांग्रेस पिछले सात साल में किये गए अपने विकास के कार्यों के प्रति इतना आश्वस्त है तो वह विपक्षी उम्मीदवारों से डरी हुई क्यों है । ’’

माकपा की अगुवाई वाली वाम मोर्चा ने दोपहर बाद ढ़ाई बजे बिड़ला तारामंडल से एस्प्लानाडे तक विरोध रैली निकाली । माकपा विधायक दल के नेता सुजान चक्रबर्ती ने कहा कि राज्य में लोकतंत्र को खतरा है । सूबे में निर्वाचन आयोग को कमतर करने के सभी प्रयास जारी है जो तृणमूल कांग्रेस का समर्थक बन गया है । ’’ पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनावों के लिए अधिसूचना जारी होने के बाद राज्य के विभिन्न हिस्सों से हिंसा की खबरें आयी थी ।

अन्य विशेष खबरों के लिए पढ़िये की पंजाब केसरी अन्य रिपोर्ट।