कश्मीर के कई शहरों में कर्फ्यू


श्रीनगर : जम्मू और कश्मीर में कल मारे गए आतंकवादियों के विरोध में कश्मीरियों का डर्मा एक बार फिर चालु हो चुका है शनिवार को कश्मीर घाटी में हिजबुल मुजाहिदीन(HM) के कमांडर सब्जार भट समेत 8 आतंकवादियों के मारे जाने के विरोध में अलगावादियों ने संडे यानि आज से ही दो दिवसीय हड़ताल का आह्वान किया है जिसके बाद श्रीनगर में 7 थाना क्षेत्रों के अंतर्गत आने वाले इलाकों और अधिकतर शहरों में कर्फ्यू लगा दिया गया है।

पिछला वर्ष जुलाई में हिजबुल मुजाहिदीन (HM) के कमांडर बुरहान वानी के मारे जाने के बाद उसके स्थान पर कमांडर बनाये गये सब्जार भट के मारे जाने के बाद पूरी घाटी खासकर दक्षिणी कश्मीर और श्रीनगर में भीषण विरोध-प्रदर्शन शुरु हो गया था कश्मीर के पुलवामा के त्राल में कल हिजबुल मुजाहिदीन के 2 आतंकवादी मारे गए थे जबकि उरी के रामपुर सेक्टर में नियंत्रण सीमा रेखा पार करने की कोशिश कर रहे छह घुसपैठियों को सुरक्षाबलों ने मार गिराया था।

फारूख अहमद लोन (श्रीनगर के जिलाधिकारी) ने कहा कि कानून-व्यवस्था की स्थिति को देखते हुए श्रीनगर जिले के 7 थानों अंतर्गत क्षेत्रों खानयार, नौहट्टा, सफाकदल, एमआर गंज, रैनावाड़ी, क्रालखुद और मैसुमा में कड़ी पाबंदी लगाई गई है। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान  (All India Institute of Medical Sciences ) और अन्य परीक्षाएं देने वाले अभ्यर्थियों के प्रवेश पत्रों को ही कर्फ्यू पास माना जा रहा है।

सुरक्षा कारणों से कश्मीर घाटी में कल से रेल सेवा टाल कर दी गई  है। एक वरिष्ठ रेलवे अधिकारी ने कहा कि सरकार और पुलिस से निर्देश मिलने के बाद सुरक्षा कारणों से रेल यातायात टाल दिया गया है। उन्होंने कहा कि श्रीनगर-बडगाम-सोपोर और उत्तरी कश्मीर के बारामूला में कल से ही रेल यातायात टाल दिया गया है। उसी तरह से दक्षिण कश्मीर के और जम्मू क्षेत्र के बनिहाल तक रेल सेवा टाल  दी गई है।