दुकान पर पनीर नहीं मिला तो किशोर को जबरन पिलाया एसिड


दक्षिणी दिल्ली: संगम विहार इलाके में एक किशोर को उसकी दुकान में जबरन घुसकर तीन लड़कों ने एसिड पिला दिया। किशोर का अभी एम्स में उपचार चल रहा है। पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। एसिड की बोतल घटनास्थल से बरामद कर फोरेंसिक जांच के लिए भेज दी गई है। अभी तक आए दिन महिलाओं और लड़कियों पर एसिड अटैक की वारदातें होती थीं, लेकिन संगम विहार में तीन लड़कों ने एसिड अटैक से हमला नहीं किया, बल्कि किशोर को जबरन एसिड पिला दिया। पुलिस सूत्रों के मुताबिक संगम विहार रतिया मार्ग पर रहने वाले बाबूलाल सागर गली नंबर में रहते हैं। ग्राउंड फ्लोर पर उनकी दूध की दुकान और उसके ऊपर वे परिवार के साथ रहते हैं। उनके चार बच्चे हैं। जानकारी के मुताबिक, गत 24 जुलाई की रात पड़ोस के कुछ लड़के दुकान पर पनीर लेने पहुंचे थे। उस समय दुकान पर बाबूलाल का बेटा योगेश (17-18 वर्ष) बैठा हुआ था। उसने उन लड़कों को दुकान पर पनीर नहीं होने की बात कही।

यह सुनने के बावजूद लड़कों को यकीन नहीं हुआ और उन्होंने खुद दुकान में घुसकर पनीर तलाशना शुरू कर दिया। दुकान में जबरन घुसने की बात पर योगेश की उनसे कहासुनी हो गई। उस समय तो वे सभी चले गए, लेकिन गत 25 जुलाई की रात करीब 11 बजे तीन लड़कों ने दुकान पर धावा बोलकर योगेश को काबू कर लिया। योगेश की बहन ने उसके ‘मम्मी बचाओ-मम्मी बचाओ’ की आवाज सुनी तो खिड़की से देखने पर पाया कि दो लड़कों ने योगेश के हाथ पकड़कर उसे जमीन पर गिराया हुआ था। उनका तीसरा साथी योगेश के मुंह में एसिड डाल रहा था। बहन के शोर मचाने पर आरोपी लड़के फरार हो गए, लेकिन दुकान में एसिड का धुआं निकल रहा था और एक बोतल मौके पर पड़ी मिली जिसमें सफेद एसिड लाया गया था।

इसके बाद योगेश तुरंत उपचार के लिए हमदर्द मजीदिया अस्पताल ले जाया गया, उसके बाद उसे एम्स अस्पताल रेफर कर दिया गया। वहां पर योगेश बयान देने की स्थिति में नहीं था। इस संबंध में पुलिस ने उसकी बहन के बयान पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। तीन लड़कों में एक लड़का पड़ोस में रहने सुभाष गुप्ता का बेटा बताया जा रहा है जिसे योगेश की बहन ने दुकान से भागते हुए देखा था। पुलिस सूत्रों का कहना है कि योगेश को एसिड पिलाने के पीछे एक दिन पहले हुई कहासुनी मुख्य कारण थी या किसी अन्य वजह से यह घटना हुई उसका पता लगाया जा रहा है। इस मामले में पुलिस दो लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। इस बात का भी ध्यान रखा जा रहा है कि कहीं आपसी रंजिश के चलते तो इस घटना को अंजाम नहीं दिया गया।