पलभर में उजड़ गई 5 जिंदगियां


दक्षिणी दिल्ली : ओखला स्थित फेज वन में सोमवार की शाम तक घर में बुधवार को शादी की तैयारियां चल रही थीं, लेकिन अनहोनी के चलते उस घर से लोगों की लाश निकलीं। इस हादसे से पड़ोस के लोगों को भी काफी आहत पहुंची है और परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। टाटी स्टील के निकट बसी झुग्गी में रहने वाले सुरेन्द्र के बेटे रविकांत की बुधवार को सरिता विहार इलाके में शादी होनी थी। घर में रिश्तेदारों का भी जमघट लगा हुआ था और रात को गीत-संगीत चल रहा था। इस बीच झुग्गी के बाहर स्टोव पर चाय बन रही थी कि तभी सिलेंडर से हुआ गैस का रिसाव लोगों के लिए काल बन गया।

देखते ही देखते गैस के गोले लोगों के लिए जानलेवा साबित हो गए। मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस, दमकल विभाग और सिविल डिफेंस की टीम मौके पर पहुंच गई। आग लगने की सूचना मिलते ही दक्षिण-पूर्वी जिला पुलिस उपायुक्त रोमिल बानिया समेत अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त, एसीपी और विभिन्न थानाध्यक्ष मौके पर पहुंच गए। सभी ने झुलसे लोगों को अस्पताल पहुंचाने में मदद की। पुलिस के मुताबिक लालसा (45) और संतरा (42) को उपचार के लिए ईएसआई अस्पताल ले जाया गया, जहां दोनों ने दम तोड़ दिया। वहीं उषा (46) उनके बेटे शशिकांत (20) और बहन की बेटी खुशी (8) को सफदरजंग अस्पताल ले जाया गया, उन तीनों ने भी दम तोड़ दिया। लोगों का आरोप है कि दमकल की गाड़ी घटनास्थल पर देरी से पहुंची।