15 अगस्त तक कैंपस में टैंक रखने का आह्वान


दक्षिणी दिल्ली: जेएनयू के कुलपति एम. जगदीश कुमार द्वारा गत रविवार को कैंपस में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान पुराने टैंक रखने के बयान के बाद शुरू हुआ विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। कुलपति के बयान के बाद छात्रसंघ और शिक्षकसंघ विरोध में उतर आए। वहीं एबीवीपी कुलपति के बयान का स्वागत करते हुए फैसले को जल्द लागू करने की मांग कर रहे हैं। इसे लेकर बुधवार को एबीवीपी नेता और जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व संयुक्त सचिव सौरभ शर्मा ने जेएनयू प्रशासन और केंद्र सरकार से 15 अगस्त से पहले टैंक रखने की मांग की है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि कैंपस में कुछ लोग हैं, जोकि प्रशासन के हर फैसले का विरोध करते हैं। सौरभ ने कहा कि इस फैसले का हमें स्वागत करना चाहिए और सेना के त्याग और बलिदान को कभी नहीं भूलना चाहिए।

उधर जहां कुछ शिक्षक कुलपति के बयान का विरोध कर रहे हैं तो कुछ शिक्षक इनके समर्थन में में खड़े हुए नजर आ रहे हैं। इस फैसले का जो शिक्षक स्वागत कर रहे हैं उनका कहना है कि प्रशासन के हर फैसले का छात्र अक्सर विरोध करते नजर आते हैं। इस बयान का विरोध नहीं होना चाहिए। सेना के शौर्य और बलिदान को कभी नहीं भूलना चाहिए। बता दें कि जेएनयू के साथ कई डिफेंस इंस्टीट्यूट में पढऩे वाले छात्रों को जेएनयू मानद डिग्री प्रदान करती है। सूत्रों केअनुसार जेएनयू से करीब 30 हजार जवानों को अब तक मानदडिग्री प्रदान की गई है।