केजरीवाल ने केंद्र पर लगाया आरोप कहा रोक रखी है नये मंत्रियों की नियुक्ति संबंधी फाइलें


CM arvind kejriwal

नई  दिल्ली : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया है कि केंद्र ने रोक रखी दिल्ली सरकार के 2 नये मंत्रियों की नियुक्ति संबंधी फाइलें।

अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि आप की सरकार के साथ भाजपा नीत केंद्र की ”दुश्मनी” की वजह से दिल्ली के लोगों को परेशानी नहीं होनी चाहिए। केजरीवाल ने कहा कि केंद्र ने दिल्ली सरकार की गतिविधियां रोक रखी है ।

 


उन्होंने ट्वीट किया, ”केंद्र पिछले 10 दिनों से फाइल दबाए हुए है। इस वजह से दिल्ली सरकार की कई गतिविधयां थम गयी है। आपकी दुश्मनी हमारे साथ है, दिल्ली के लोगों के साथ बदला मत लीजिए।” केजरीवाल के पास दिल्ली सरकार में कोई प्रभार नहीं है। संवैधानिक प्रावधानों के मुताबिक सरकार में अधिकतम 7 मंत्री हो सकते हैं।

 

 

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी मुद्दे पर ट्विटर का सहारा लेते हुए कहा कि दिल्ली में 2 नए मंत्रियों की फाइल 10 दिन से केंद्र सरकार लेकर बैठी है। अब तो कपिल का धरना और मीडिया की नौटंकी खत्म हो गयी, अब तो फाइलों को मंजूर कर दो।

आप के 2 विधायकों – राजेंद्र पाल गौतम और कैलाश गहलोत को कैबिनेट में शामिल किया गया।

सरकार के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि राजेंद्र पाल गौतम और कैलाश गहलोत की नियुक्ति से जुड़ी फाइलें कपिल मिश्रा को हटाए जाने के बाद गृह मंत्रालय को भेज दी गई थी।