टाउन हॉल और यमुना बाजार के सौंदर्यीकरण पर एलजी का फोकस


नई दिल्ली: दिल्ली की ऐतिहासिक धरोहरों के रखरखाव और सौंदर्यकरण को लेकर उपराज्यपाल अनिल बैजल काफी सक्रिय हो गए हैं। यही वजह है कि वह न केवल ऐतिहासिक धरोहरों के सौंदर्यकरण पर जोर दे रहे हैं बल्कि मौके पर पहुंच कर काम की अपडेट भी ले रहे हैं। इसी कड़ी में उपराज्यपाल अनिल बैजल ने शनिवार को दिल्ली के चांदनी चौक, सहित हनुमान मंदिर क्षेत्र, यमुना बाजार और ऐतिहासिक टाउन हॉल का निरीक्षण किया। उपराज्यपाल ने मौके पर यहां के हालातों का जायजा लिया, वहीं इसके आलावा सभी अधिरकारियों से सौंदर्यकरण और रखरखाव को बेहतरी के चल रहे प्लॉनिंग की भी जानकारी ली।

बता दें कि ऐतिहासिक टाउन हॉल में ही टाउन हॉल के पुनर्विकास की योजनाओं का प्रजेंटेशन बनाया गया था। टाउन हॉल इस ऐतिहासिक क्षेत्र का एक लैंडमार्क है जहां पर 1866 से 2009 तक दिल्ली नगर निगम की सीट थी। उपराज्यपाल ने निगम अधिकारियों को इमारत तक आसान आवागमन को टाउन हॉल के प्रस्तावित पुनर्विकास योजना का हिस्सा बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने यह भी सलाह दी कि इमारत की नियमित रखरखाव एवं साफ-सफाई की भी व्यवस्था होनी चाहिए।

उपराज्यपाल ने उत्तरी दिल्ली नगर निगम संपूर्ण यातायात व्यवस्था की योजना को पूरा करने में वह यातायात पुलिस एवं लोक निर्माण विभाग की मदद लेने के निर्देश दिए। अनिल बैजल ने क्षेत्र की बढ़ती जरूरत के अनुसार नई पार्किंग जगहों की व्यवस्था एवं पुरानी पार्किंग जगहों का अपग्रेड करने पर जोर दिया। इसके साथ ही इलाकों की प्रतिदिन साफ सफाई पर भी सुनिश्चित करने के आदेश दिए और गलियों/सड़कों के ऊपर लगे बिजली के तारों को डक्टिंग के लिए कदम उठाने के लिए कहा। यातायात की बेहतर व्यवस्था के लिए केवल पंजीकृत ई-रिक्शा चलाने पर ही जोर दिया। निगम के अधिकारियों ने बताया कि हनुमान मंदिर क्षेत्र में दो बहुमंजिला पार्किंग व मंदिर परिसर में एक फ्लॉवर वेस्ट प्रोसेसिंग प्लांट लगाने के प्रस्तावित प्लांट की जानकारी दी।