एसडीएमसी ने बड़े पैमाने पर गिराये अवैध निर्माण


पश्चिमी दिल्ली: क्षिणी दिल्ली नगर निगम (एसडीएमी) ने नोडल संचालन समिति और उच्च न्यायालय के निर्देशानुसार गुरुवार को दक्षिणी निगम जोन इलाके में बड़े पैमाने पर अवैध निर्माण को गिराया। नोडल संचालन समिति की 52वीं बैठक में दिये गये निर्देशों और उच्च न्यायालय के एक पी.आई.एल. में दिए गए फैसले को देखते हुए उपरोक्त कार्रवाई की गई। इधर न्यायालय के आदेश और नोडल संचालन समिति के निर्देशों का गंभीरता से अध्ययन करते हुए एसडभ्एमसी ने अनधिकृत निर्माण रोकने और आगे ऐसा न होने के लिए एक कार्य योजना बनायी है।

दक्षिण निगम जोन के भवन विभाग ने छतरपुर, चिराग दिल्ली, खिड़की, कृष्णा पार्क-खानपुर और सा-दुल अजाब जैसे इलाकों में अनधिकृत निर्माण को ढहाने और सील करने के लिए अलग-अलग दलों का गठन किया है। इन दलों ने अनधिकृत निर्माण पर सख्त कार्रवाई करते हुए निर्माण ढहाए। इस दौरान सात संपत्तियों को गिरा दिया गया और उन्हें रहने लायक स्थिति में नहीं रहने दिया गया। खिड़की इलाके और राजपुर खुर्द में एक-एक सम्पत्ति को सील किया गया। आज सुबह यह कार्रवाई शुरू हुई और देर शाम तक जारी रही। स्थानीय नागरिकों ने बाधा उत्पन्न करने की कोशिश की और अनधिकृत निर्माण ढहाने पर विरोध व्यक्त किया। उन्होंने कार्रवाई कर रहे दस्ते पर दबाव डालने की कोशिश की और उन्हें रोकने के लिए प्रयास किये। इन सब बाधाओं के बावजूद संबंधित दलों ने सफलतापूर्वक कार्रवाई पूरी की।