डीयू में आरक्षण पर विजय गोयल ने लिया श्रेय


नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा में दिल्ली विश्वविद्यालय के 28 कॉलेजों में 85 फीसदी आरक्षण से संबंधित प्रस्ताव पारित होने पर केन्द्रीय मंत्री विजय गोयल ने श्रेय लेने की कोशिश की है। गोयल का कहना है कि यह उनकी व्यक्तिगत जीत है। गोयल ने कहा कि लम्बे अरसे से मैं दिल्ली वासियों को डीयू के दाखिले में प्राथमिकता दिए जाने के लिए संघर्ष कर रहा था। इसके लिए दिल्ली के शिक्षा मंत्री, केंद्रीय शिक्षा मंत्री और दिल्ली यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर से भी पिछले वर्ष मुलाकात की थी। पांच वर्षों मैं खुद इस मुद्दे को उठा रहा था। गोयल ने दिल्ली सरकार के फैसले पर हालांकि ख़ुशी जताई लेकिन साथ ही यह भी कहा कि दिल्ली सरकार ने उनकी बात को गंभीरता से लिया होता तो इसी सत्र में आरक्षण लागू हो जाता और छात्रों को काफी रहत मिलती।