मोदी बोले : कांग्रेस ओखी जैसी आने का माहौल बनाती है लेकिन कभी आती नहीं


Narendra Modi

अहमदाबाद : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कांग्रेस के उस दावे पर कटाक्ष किया, जिसमें गुजरात चुनाव में जीत की बात कही जा रही है। मोदी ने चक्रवाती तूफान ओखी का जिक्र करते हुए कहा कि वह राज्य में दस्तक देने के लिए तैयार था, लेकिन दे नहीं पाया। इसी तरह कांग्रेस गुजरात में अपने पांव नहीं जमा पाएगी। ओखी’ की चेतावनी की अनदेखी कर अपने तीन दिवसीय प्रचार कार्यक्रम को जारी रखते हुए प्रधानमंत्री अहमदाबाद जिले के दक्षिणी हिस्से धंधुका में थे। उन्होंने एक बार फिर इस जगह के साथ अपने रिश्ते को याद करते हुए भाषण शुरू किया। ओखी के बारे में चेतावनियों का जिक्र करते हुए उन्होंने कांग्रेस की ओर इशारा किया जिसको लेकर बड़ा माहौल बनाया जाता है और कहा जाता है कि वह आ रहा है वह कभी नहीं आता।

दरअसल, कांग्रेस राज्य में प्रचार के दौरान दावा कर रही है कि वह चुनाव जीतने जा रही है। चक्रवाती तूफान मंगलवार को गुजरात की तरफ आया था, लेकिन बुधवार को कमजोर पड़ने के कारण अरब सागर से आगे नहीं बढ़ पाया। भीड़ को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, “हमें लगता है कि कांग्रेस ने सरदार पटेल के साथ इंसाफ नहीं किया, लेकिन मैं आपको बता दूं कि वह एकमात्र नहीं थे। एक परिवार ने संविधान निर्माता, भीमराव अंबेडकर और उन सभी लोगों के साथ इंसाफ नहीं किया, जो राजनीति में महत्व रखते हैं। अंबेडकर को संवैधानिक निकाय चुनाव में सदस्यता के लिए बंगाल के रास्ते जाना पड़ा था। कांग्रेस उन्हें भी भारतरत्न से सम्मानित नहीं कर सकी। बाबा साहेब को केंद्र में कांग्रेस के पूरे शासन के दौरान कभी याद नहीं किया गया। उन्होंने कहा, “हम ऐसे महान नेताओं को नमन करते हैं। गुजरात में विकास कार्यो को जारी रखते हुए, गुजरात के लोगों को महान नेताओं का सम्मान करना चाहिए।

तीन तलाक के मुद्दे पर मोदी ने कहा, “उत्तर प्रदेश चुनाव के दौरान, सर्वोच्च न्यायालय ने केंद्र सरकार को इस मुद्दे के प्रति हलफनामा दर्ज करने के लिए कहा था। कई ने मुझे चेतावनी दी कि यूपी में चुनाव आ रहे हैं, इसलिए हम ऐसा करने का जोखिम नहीं उठा सकते। कई लोग उम्मीद कर रहे थे कि मोदी सर्वोच्च न्यायालय से समय लेंगे, लेकिन मैंने कहा, जब सवाल हमारी मुस्लिम महिलाओं को लेकर है तो मुझे समय क्यों चाहिए। मुझे चुनाव की परवाह नहीं है। राजीव गांधी के समय के बाद से लंबित मुद्दे को सर्वोच्च न्यायालय ने मंजूरी दे दी है। सुन्नी वक्फ बोर्ड के अधिवक्ता कपिल सिब्बल द्वारा अदालत से राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद मामले की सुनवाई 2019 के आम चुनाव के बाद करने की मांग पर मोदी ने कहा, “जब सिब्बल ने यह कहा तो कांग्रेस ने इसे सिब्बल का व्यक्तिगत और निजी मुद्दा है।

तो मैं आप से पूछता हूं कि 2019 का आम चुनाव कपिल सिब्बल को व्यक्तिगत रूप से और वक्फ बोर्ड को कैसे प्रभावित कर सकता है? क्या सुन्नी वक्फ बोर्ड चुनाव लड़ रहा है?” प्रधानमंत्री ने भीड़ को सौर पंप का व्यावहारिक समाधान करने के लिए केंद्र सरकार के अभियान के बारे में बताया और कहा कि यह कार्य प्रगति पर है, जो किसान का जीवन आसान बना सकता है। उन्होंने एक प्राचीन समय के बंदरगाह धोलेरा को लेकर योजना के बारे में बताया। उन्होंने कहा, “मैंने धोलेरा के विकास के लिए यूपीए सरकार से कई बार अनुरोध किया, लेकिन उन्होंने कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई. लेकिन हमारे प्रयासों से 10 साल के भीतर धोलेरा मुंबई और राजकोट की तरह समृद्ध हो जाएगा।

 लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।

Choose A Format
Poll
Voting to make decisions or determine opinions
Story
Formatted Text with Embeds and Visuals
List
The Classic Internet Listicles
Video
Youtube, Vimeo or Vine Embeds
Thanks for loving our story. Like our Facebook page to get more stories.