दलित के घर खाना खाएंगे अमित शाह


रोहतक: भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के तीन दिवसीय दौरे को लेकर शुक्रवार को भाजपा जिला कार्य समिति की बैठक हुई। बैठक में राष्ट्रीय अध्यक्ष के कार्यक्रमों को लेकर रणनीति तय की गई। बताया जा रहा है कि राष्ट्रीय अध्यक्ष दौरे के दौरान दलित के घर खाना खाएंगे और अलग अलग 27 बैठके कर सरकार के काम व कार्यकर्ताओं, पदाधिकारियों से मुलाकात करेंगे। इन तीन दिन के दौरान रोहतक से ही पूरी सरकार चलेगी। यहीं नहीं केन्द्र के भी कई मंत्री रोहतक आने की संभावना है। बताया जा रहा है कि अमित शाह के स्वागत को लेकर अभी से तैयारियां शुरू कर दी गई। हरियाणा की सीमा में प्रवेश करते हुए बहादुरगढ़ में अमित शाह का भव्य स्वागत किया जाएगा और इसके बाद सांपला से होते हुए वह रोहतक पहुंचेगे। इस दौरान जगह जगह पर कार्यकत्र्ता राष्ट्रीय अध्यक्ष का स्वागत करेंगे। इसके लिए उद्योग मंत्री विपुल गोयल को जिम्मेदारी सौंपी गई है।

शुक्रवार को इंवीटेशन गार्डन में पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने जिला कार्य समिति की बैठक ली और राष्ट्रीय अध्यक्ष के दौरे की तैयारियों को लेकर पदाधिकारियों से चर्चा की। बाद में पत्रकारों से बातचीत करते हुए पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने बताया कि हरियाणा की संस्कृति की पहचान विश्व स्तर पर प्रदेश के नागरिकों की बदौलत है। तीन दिवसीय बैठकों के दौर के दौरान हरियाणवी संस्कृति की झलक राष्ट्रीय अध्यक्ष को देखने को मिलेगी। इनमें तीज उत्सव व हरियाणवीं नगाडों का समावेश होगा। उन्होंने कहा कि इन बैठकों में आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियों के साथ-साथ प्रदेश सरकार की कार्यशैली की भी समीक्षा की जाएगी। इसके लिए अलग-अलग कमेटियों का गठन किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता व पदाधिकारी सूचीबद्ध किए गए कार्यक्रम अनुसार ही अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि वैसे तो राष्ट्रीय अध्यक्ष का कार्यक्रम रोहतक में इसलिए रखा गया है कि यहां पर प्रदेश पार्टी कार्यालय है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने बड़े-बड़े गढ़ खत्म किए है, जिसका जीता जागता उदाहरण बिहार की राजनीतिक परिस्थितियां है। उन्होंने कहा कि जब कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्षा सोनिया गांधी का ही गढ़ तोड़ दिया तो भूपेन्द्र सिंह हुड्डा तो सोनिया गांधी का एक छोटा सा सिपाही है और उनका क्या वजूद है। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि अमित शाह दलित के घर भी भोजन करेंगे। बराला ने कहा कि एमडीयू के टैगोर आडिटोरियम में शहर के प्रबुद्ध नागरिकों की विचारगोष्ठी रखी जाएगी, जिसमें भारत स्वाभिमान ट्रस्ट व अन्य पदाधिकारियों को शामिल किया जाएगा। इसके अलावा मंडल स्तर से ऊपर तक के कार्यकर्ताओं के लिए एक अलग से बैठक आयोजित की जाएगी।

(मनमोहन कथूरिया)