चौपाल कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए मंडल अध्यक्षों से अपील


करनाल: स्थानीय पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाऊस में भाजपा के सभी मण्डल अध्यक्षों की बैठक का आयोजन किया गया, जिसकी अध्यक्षता भाजपा सांसद अश्विनी चोपड़ा ने की। बैठक में आगामी 30 जुलाई को होने वाले चौपाल कार्यक्रम को सफ ल बनाने के बारे में विचार-विमर्श किया गया। बैठक को सांसद की धर्मपत्नी श्रीमती किरण शर्मा चोपड़ा व भाजपा जिलाध्यक्ष जगमोहन आनन्द ने संबोधित करते हुए आह्वान किया कि यह कार्यक्रम जरूरतमंद लोगों को रोजगार मुहैया कराने के उद्देश्य से किया जा रहा है। कार्यक्रम के माध्यम से जरूरमंदो को ई-रिक्शा देकर उनको स्वरोजगार दिया जाएगा। उन्होंने बताया इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री मनोहर लाल मुख्य रूप से शिरकत करेंगें। इस अवसर पर सभी भाजपा मंडल अध्यक्ष मौजूद रहे। पत्रकारों से बातचीत करते हुए सांसद अश्विनी कुमार चोपड़ा ने बताया कि बैठक में भाजपा मण्डल अध्यक्षों के साथ विकास कार्यों पर चर्चा की गई। साथ ही उनसे आगामी 30 जुलाई को आयोजित होने वाले चौपाल नामक कार्यक्रम में बढ़=चढ़कर भाग लेने का आह्वान किया गया है। श्री चोपड़ा ने अमरनाथ यात्रियों पर हुए आंतकी हमले की निंदा करते हुए दोषियों को सख्त से सख्त सज़ा देने और धार्मिक स्थानों की सुरक्षा बढ़ाने की बात भी कही। उन्होंने दपवा किया कि राष्ट्रपति चुनाव में बीजेपी उम्मीदवार की जीत होगी।

(आशुतोष गौतम, महिन्द्र)

पानीपत का रेलवे ट्रैक बनेगा हरा-भरा

जब से केंद्र सरकार ने स्वच्छ भारत मिशन देश में शुरू किया है देश के लोगों में अपने शहर व अपने वार्ड को स्वच्छ रखने के लिए जागरूकता पैदा हो रही है । इस स्वच्छ भारत मिशन में खासकर युवा वर्ग बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहा है । इसी स्वच्छ भारत मिशन के तहत पानीपत में रेलवे व पानीपत प्रशासन का पिछले दिनों से समझौता हुआ कि रेलवे ट्रैक के दोनों ओर स्वच्छ भारत मिशन के तहत सुंदर पार्क और हरियाली लगाई जाएगी । इसी मिशन के तहत आज करनाल सांसद अश्विनी कुमार चौपड़ा जी सैनी कॉलोनी वार्ड नंबर 24 में रेलवे ट्रैक के दोनों ओर बने पार्क का मुआयना करने आए थे । रेलवे ट्रैक के दोनों और बने पार्क को देखकर सांसद अश्विनी चोपड़ा जी ने कहा वास्तव में यह सराहनीय काम है । इस कार्य आए गंदगी दूर हो रही है और आसपास बीमारियां भी नहीं फैलती हैं।

उन्होंने वार्ड नंबर 24 के पार्षद दुष्यंत फट से कहा कि वह इस पार्क को और सुंदर और स्वच्छ बनाएं। उन्होंने कहा कि इस पार्क को एक मॉडल के रूप में लोगों व केन्द्र सरकार के सामने प्रस्तुत करें ताकि हम केंद्र सरकार को दिखा सके की स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत सफाई व सुंदरता को लेकर लोग जागरूक हैं । उन्होंने कहा कि जब हम केंद्र सरकार को रेलवे ट्रैक के दोनो और बने पार्क का मॉडल दिखाए गये और उन्हें और सुंदर बनाने के लिए सरकार से अनुदान राशि भी ली जा सकती हैं। पानीपत और करनाल के लोगों को ऐसे पार्क को बनाकर देश के सामने उदाहरण पेश करना चाहिए ताकि वे भी इस स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत अपने आसपास के वातावरण को स्वच्छ और सुंदर बना सकें। इस अवसर पर सांसद अश्विनी कुमार चोपड़ा जी की धर्मपत्नी किरण शर्मा चोपड़ा ,शिव परसाद शर्मा नगर निगम कमिश्नर महामंत्री भाजपा संजय भाटिया व जिला अध्यक्ष प्रमोद विज उपस्थित थे ।

सांसद अश्विनी कुमार चोपड़ा को कराया समस्याओं से अवगत

पानीपत के एक्सपोर्ट एसोसिएशन ,यार्न एसोसिएशन व् होटल एंड बार एसोसिएशन के लोग करनाल सांसद अश्विनी कुमार चोपड़ा जी से अपनी समस्याओं को लेकर मिले। सांसद अश्विनी कुमार चोपड़ा जी के समक्ष तीनो एसोसिएशन ने अपनी समस्या से अवगत करवाया। एक्सपोर्ट एसोसिएशन ने केंद्र सरकार की टेक्सटाइल मंत्री स्मृति ईरानी के नाम सांसद अश्विनी कुमार चोपड़ा जी को मांग पत्र दिया। एक्सपोर्ट एसोसिएशन के उपप्रधान सतिंदर लीखा का कहना है कि इस मांग पत्र के जरिये हमने मांग की है कि एक्सपोर्ट को प्रोत्साहन नहीं मिला रहा हैं। आयात की पॉलिसी ठीक की जाए ताकि पानीपत में केंद्र सरकार की आयात इंपोर्ट पॉलिसी के चलते उद्योग खत्म हो रहे हैं। पानीपत में रोजगार खत्म हो रहा हैं।

उधर यार्न एसोसिएशन के प्रतिनिधियों ने सांसद अश्विनी चोपड़ा जी को वित्त मंत्री अरुण जेटली के नाम मांगपत्र सोपते हुए कहा कि यार्न पर जो सरकार ने जीएसटी लगाया है उसका स्पष्ट रूप से व्याख्यान नहीं किया गया हैं। सरकार यार्न पर लगे जीएसटी को स्पष्ट रूप से व्याख्यान करे ताकि उद्योगपतियों को काम करने में आसानी हो सके। होटल एंड बार एसोसिएशन के प्रतिनिधियों ने भी सांसद अश्विनी कुमार चोपड़ा को मुख्यमंत्री के नाम एक मांग पत्र सौंपा की। उन्होंने इस मांग पत्र जरिए मांग की हैं की नेशनल हाईवे पर जितने भी होटल और टूरिज्म है बार बंद होने के कारण होटल उद्योग बंद होने की कगार पर हैं क्योंकि सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार 500 मीटर तक किसी भी होटल और टूरिज्म में बार नहीं खोले जाएंगे।

जिसके कारण होटल के मालिकों को काफी नुकसान हो रहा है। उन्होंने हरियाणा सरकार से मांग की हैं की हमारी इस समस्या का समाधान किया जाये ताकि बंद हो रहे होटल उद्योग को नवजीवन मिल सके। तीनों संस्थाओं की समस्या और मांग पत्र लेने के बाद सांसद अश्विनी कुमार चोपड़ा जी ने सभी को यह विश्वास दिलाया कि आप सब की समस्याओं को टेक्सटाइल मंत्री स्मृति ईरानी, वित्त मंत्री अरुण जेटली और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के पास लेकर जाउगा। उन सभी को आपकी समस्या से अवगत करवा कर समस्या का समाधान निकालने की कोशिश करेंगे।

12​ ​​प्रतिशत जीएसटी की जगह 5​ प्रतिशत ​तय किया जाए

करनाल सांसद अश्विनी चोपड़ा जी आज का हैंडलूम डोर मेंट व्यापारियों से मिले और उनकी समस्याओं को सुना। हैंडलूम डोर मेट व्यापारी हैंडलूम डोरमैट पर 12 प्रतिशत जीएसटी लगने से नाराज है इस टैक्स वृद्धि से सरकार का विरोध प्रकट कर रहे​ ​​हैं। ​ भाजपा के वरिष्ठ नेता सुरेन्द्र रेवड़ी की अगुवाई में हैंडलूम डोरमैट के व्यापारी सांसद अश्विनी कुमार चोपड़ा जी से मिले। करनाल सांसद अश्विनी चोपड़ा जी ने हैंडलूम डोररमेंट व्यापारियों से मिले उनकी समस्या को सुनकर उन्हें आश्वासन दिलाया कि आपकी स​​मस्या को वित्त मंत्री अरुण जेटली के समक्ष रखूंगा। मेरा पूरा प्रयास रहेगा आपकी समस्या हल कर ​निकल सके। उन्होंने कहा कि हैंडलूम डोरमैट के कुछ व्यापारियों लोग दिल्ली में आकर अपना मांग पत्र वित्त मंत्री को भी ​ताकि जल्द से जल्द आपकी समस्या हल हो सके । ​​हैंडलूम डोरमेट के अध्यक्ष ​तरसेम सिंगला ​ने कहा कि से ​​हैंडलूम डोरमेट​ से छोटे छोटे व्यापारी जुड़े हुए ​हैं। ​​हैंडलूम डोरमेट खड़ी ​व छोटे छोटे उद्योगों में बनाया जाता ​हैं। उनको बनाने वाले कारीगर ​भी गरीब तबके से ताल्लुक रखते ​हैं।

​ इसका काम पानीपत के आस-पास के गांव के लोग बनाते ​हैं। अब जब केंद्र सरकार ने इस पर जीएसटी 12​ ​​प्रतिशत लगा दिया है तो व्यापार बंद होने की कगार पर​ हैं। केंद्र सरकार ने ​हैंडलूम पार ​एक हजार रूपये से ऊपर की वस्तुओं पर 12​ प्रतिशत जीएसटी वैट और 1000 पर से कम 5​​​ ​​प्रतिशत जीएसटी लगाया​ ​​हैं। लेकिन हमारे डोर मैट पर 12​प्रतिशत जीएसटी लगाकर ​​कारीगरों व् व्यापरियों को रोजी रोटी के लाले पड़ गए ​हैं। ​ ​सभी व्यापरी आर्थिक तंगी से गुजर रहे ​हैं। हम सरकार से अनुरोध करते हैं कि ​एक हजार रुपये से नीचे वाली वस्तु पर जीएसटी 5​ प्रतिशत लगाया ​जाये। ​​हैंडलूम ​डोरमेट पर भी 12​ ​​प्रतिशत जीएसटी हटाकर 5​ प्रतिशत ​लगाया जाये ताकि हैंडलूम ​डोरमेट का व्यापारी आर्थिक तंगी के ​से मुक्त हो सके।

(राकेश कुमार)

log in

reset password

Back to
log in
Choose A Format
Poll
Voting to make decisions or determine opinions
Story
Formatted Text with Embeds and Visuals
List
The Classic Internet Listicles
Video
Youtube, Vimeo or Vine Embeds
Thanks for loving our story. Like our Facebook page to get more stories.

Send this to a friend