परिजनों को सांत्वना देने दयालपुर पहुंचे चौटाला


कुरुक्षेत्र: इनेलो प्रमुख एवं हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री चौ. ओमप्रकाश चौटाला ने कुरुक्षेत्र के निकटवर्ती गांव दयालपुर में पहुंचकर एक ही परिवार के चार बच्चों की मृत्यु पर दुख जताया और पीडि़त परिवार को सांत्वना दी। उन्होंने कहा कि दुख की इस घड़ी में वे तथा उनकी पूरी पार्टी पीडि़त परिवार के साथ है। उल्लेखनीय है कि गत दिनों गांव दयालपुर में रसोई गैस सिलेंडर में लीकेज के कारण आग लगने से एक ही परिवार के चार बच्चों की मौत हो गई थी। जलकर मरने वालों में तीन बहनें रीना, मीना, रजनी और उनका भाई गौरव शामिल है, जबकि इन बच्चों की माता रेशो देवी गंभीर अवस्था में पीजीआई चंडीगढ़ में उपचाराधीन है।

बच्चों का पिता जसबीर सिंह जो कि मजदूरी करने कुवैत गया हुआ था, इस घटना के तीन दिन पश्चात अपने गांव पहुंचा। इस घटना का दुखद पहलू यह है कि बच्चों के संस्कार के समय माता पिता दोनों में से कोई भी अपने बच्चों के अंतिम दर्शन नहीं कर सके, जहां माता रेशो देवी पीजीआई चंडीगढ़ में उपचाराधीन होने के कारण नहीं अंतिम संस्कार में नहीं आ सकी, वहीं पिता जसबीर विदेश में होने के कारण अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो सके। चौ. ओमप्रकाश चौटाला ने फूट फूट कर रो रहे जसबीर सिंह को ढांढस बंधाया और कहा कि अनहोनी बलवान है, परमात्मा के आगे किसी का बस नहीं चलता। उन्होंने पीडि़त परिवार के प्रति सहानूभूति दर्शाई।

इस अवसर पर राज्यसभा सांसद रामकुमार कश्यप, इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, विधायक जसविंद्र सिंह संधू, इनेलो के राष्ट्रीय प्रवक्ता डा केसी बांगड़, हलका प्रधान रणबीर किरमिच, नगर पार्षद एवं युवा इनेलो के प्रदेश सचिव नितिन भारद्वाज लाली, पार्षद पंकज चोचड़ा, इनेलो प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य मायाराम चंद्रभानपुरा, शहरी प्रधान रामस्वरूप चोपड़ा, युवा इनेलो के जिला प्रधान सुनील राणा, इनसो के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जसविंद्र खैरा, डा संतोष दहिया, दलीप दयालपुर, प्रवीण कश्यप सहित पार्टी अनेक नेता उपस्थित थे।

– रामपाल शर्मा, पंकज अरोड़ा