विधायक ने शराब के ठेके पर जड़ा ताला


फरीदाबाद: श्रमिक विहार सेक्टर-30 बाईपास रोड पर स्थित शराब के ठेके को बंद करवाने को लेकर लोगों की मिल रही शिकायतों के मद्देनजर आज तिगांव विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेसी विधायक ललित नागर ने स्वयं लोगों के साथ मिलकर शराब के ठेके पर ताला जड़ दिया। इस दौरान स्थानीय लोगों ने जिला प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। प्रदर्शनकारी लोगों का कहना था कि उक्त शराब के ठेके के समीप ही मंदिर व स्कूल बने हुए है, जिसके चलते जहां लोगों की भावनाएं आहत होती है वहीं स्कूली छात्राएं व महिलाएं भी भय के साए में यहां से गुजरती है। उन्होंने कहा कि इस शराब के ठेके को बंद करवाने अथवा अन्य जगह स्थानांतरित करवाने के बारे में उन्होंने जिला प्रशासन को कई बार सूचित किया था परंतु प्रशासन ने कोई भी कारगर कदम नहीं उठाया, जिसके चलते बाद में उन्होंने इसकी शिकायत स्थानीय विधायक ललित नागर से की।

विधायक ललित नागर ने कहा कि उक्त शराब के ठेके को लेकर उन्हें निरंतर शिकायतें मिल रही थी, बार-बार कहने के बावजूद भी प्रशासन द्वारा ठेका नहीं हटाया गया और लोगों के बढ़ रहे आक्रोश के चलते उन्होंने आज स्वयं ठेके पर ताला जड़ दिया, अगर इसके बाद भी प्रशासन ने इस ठेके को बंद नहीं करवाया तो वह कड़े कदम उठाने को मजबूर होंगे। उपस्थित प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए श्री नागर ने कहा कि जिस प्रकार से पंजाब में पूर्व की भाजपा व अकाली गठबंधन सरकार ने युवाओं को नशे की बुरी लत की ओर ढकेला, उसी तर्ज पर हरियाणा में भी भाजपा सरकार जगह-जगह शराब के ठेके खोलकर युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। उन्होंने सरकार की आबकारी नीति की निंदा करते हुए कहा कि एक तरफ तो सरकार ने बाईपास रोड को नेशनल हाईवे घोषित कर दिया गया है, जबकि दूसरी ओर बदरपुर से लेकर कैली गांव तक इस मार्ग पर करीबन शराब के 20 ठेके खुले हुए है, जो न केवल सुप्रीमकोर्ट के आदेशों की अवहेलना कर रहे है बल्कि भाजपा सरकार की नीति और नीयत की भी पोल खोल रहे है।

– राकेश देव