बिजली कर्मचारियों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा


गुरुग्राम: कांग्रेस के एक नेता ने आज बिजली कर्मचारियों को पहले बंधक बनाया और फिर दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। कांग्रेसी नेता पर एक लाख से अधिक का बिजली का बिल बकाया था। बिजली मीटर उतारने गए थे बिजली विभाग के एएलएम और लाइनमैन। इस नेता ने जरा भी तरस नहीं खाया और अपराधियों की तरह धुनाई कर दी। बेचारे बिजली कर्मचारी अपनी चोटों से कराह रहे थे और फूट-फूट कर रो रहे थे। देखों साहब इस नेता का हाल हमारा क्या हाल कर दिया। हम तो सरकार के आदेशों की पालना करने ही गए थे। लेकिन नेता जी ने हमें घुरकी दी कि मैं कांग्रेसी नेता हूं, तुम मेरे घर पर कैसे आ गए। आरोप है कि उसने अपने साथियों को बुलाया और कर्मचारियों को लाठियों से बेरहमी से पीटा। हद तो जब हो गई जब बिजली विभाग के अधिकारी अपने कर्मचारियों के आंसू तक नहीं पूंछ रहे थे।

इस बात को लेकर युनियन ने हल्ला-हुल्लड किया तो अधिकारियों की नींद टूटी। बिजली कर्मचारियों में एससी के खिलाफ रोष बढ़ रहा है। कर्मचारियों का कहना है कि एससी का रवैया यही रहा तो हम सर्कल कार्यालय पर प्रदर्शन करेंगे और इसकी पूरी जिम्मेदारी बिजली निगम प्रशासन की होगी। आज बिजली विभाग के तीन कर्मचारियों को बिजली विभाग के डिफाल्टर उपभोक्ता जेएस बिलास ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। पहले कमरे के अंदर बंद किया और वहां पर पिटाई की और फिर पूछा की बिजली का मीटर उतारोगे। इस बात की जानकारी बिजली विभाग की हरियाणा स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड के वर्कर युनियन ने जानकारी मिली तो पुलिस स्टेशन में शिकायत की। युनियन ने इस डिफाल्टर बिजली उपभोक्ता को तुरंत गिरफ्तार करने की मांग की है।

बिजली कर्मचारियों का गुस्सा देखते ही बनता था। सिटी युनिट के प्रधान रविन्द्र यादव ने बताया कि हमारे कर्मचारी रामकिशन लाइनमैन, शिव कुमार, रविदत्त एएलएम ये डीएलएफ सब डिवीजन में कार्यरत हैं। इनको आदेश दिया गया था कि बिजली के डिफाल्टरों के मीटर उतारकर लाए जाएं। आदेश में मिलते ही कर्मचारी डिफाल्टर उपभोक्ता जेएस बिसला, मकान नंबर सी-2797ए, सुशांत लोक में पहुंच गए। कर्मचारी वहां पर पहुंचे तो बिसला ने अपने आपको कांग्रेस का वरिष्ठ नेता बताया। नेता ने कहा कि क्या तूम जानते नहीं है और कैसे कोठी पर आ गए।

युनियन नेता दलबीर मौर ने बताया कि ये बिजली उपभोक्ता बिजली विभाग का डिफाल्टर है और उस पर एक लाख से अधिक का बिल बकाया है। जो वह नहीं भर पाया है। बिसला के खिलाफ पुलिस विभाग ने मामला दर्ज कर लिया है। बिजली विभाग के कार्यकारी अभियंता सचिन यादव ने कहा कि उन्होंने एसडीओ कुलदीप नेहरा को आदेश जारी किया है कि इस कांग्रेसी नेता के खिलाफ मामला दर्ज कराओ। उधर, युनियन नेताओं का कहना है कि पहले आरोपी की गिरफ्तारी होनी चाहिए नहीं तो कर्मचारी धरना प्रदर्शन करेंगे।

– सतबीर भारद्वाज