शहर में 2 जगह महिलाओं की चोटी कटने से मचा हड़कम्प


बहादुरगढ़: बहादुरगढ़ में भी महिलाओं की चोटी कटने से शहर व देहात में हडकम्प मच गया है। उधर पिछले कई दिनों से महिलाओं की चोटी कटने की अफवाहें लगातार जोर पकड़ती जा रही है। ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में काफी घरों की दहलीज पर नीम की टहनी व नींबू-मिर्ची पहरेदार बनकर लटकते नजर आते हैं। पुरु षों के मुकाबले महिलाएं चोटी कटने को लेकर ज्यादा आशंकित रहते हुए इन घटनाओं के होने की बात कह रही है तो पुरुष इसे अंधविश्वास व अफवाहें करार दे रहे हैं। चोटी कटने को लेकर कितनी सच्चाई है इसको लेकर अभी कुछ भी स्पष्ट नहीं हो रहा। हालांकि शहर के डी.आई.जी. कॉलोनी में एक सेवानिवृत पुलिसकर्मी की पत्नी जब अपने घर के बाहर पड़ोस की महिला के साथ खड़ी हुई थी तो अचानक उसे कंपकंपी हुई और चक्कर आने लगे और बेसुध हो गई। पड़ोस की महिला माया व कमला ने बताया कि अचानक कमला की चोटी कट गई। इसको देखकर वह सदमे में दिखाई दी।

बाद में उसे गंगाजल पिलाया गया और उसके कुछ देर बाद उसकी सेहत में सुधार दिखा। उधर गांव गंगडवा में भी एक महिला की रात को साढ़े 9 बजे चोटी कट गई। जिस समय यह वाक्या हुआ उस दौरान परिवार के सदस्य अंदर टी.वी. देख्रा रहे थे तो महिला बाहर चारपाई पर निंद्रा में थी। अचानक महिला को कुछ गिरने का आभास हुआ। उसने देखा तो चोटी कटी मिली। इसको देखकर महिला बेसुध हो गई। परिवार व पड़ोस के लोगों को पता चला तो वे भी एकत्रित हुए। गांव व शहर में इस तरह की घटनाओं को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हैं। कुछ लोग इन्हें अंधविश्वास कह रहे हैं तो कुछ इसमें सच्चाई होने की बात कह रहे हैं।

अफवाहो से बचें: बादली रोड की डी.आई.जी. कॉलोनी में सोमवार की शाम को महिला कमला की चोटी कटने की सूचना परिवार व पड़ोस के लोगों ने स्थानीय पुलिस को दी। जिसके बाद कई पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे। पुलिसकर्मियों ने महिलाओं व पुरुषों से इस तरह की घटनाओं पर ध्यान न देने के लिए कहा। साथ में शुरुआत में इस तरह की घटनाओं को अफवाह करार दिया। लेकिन जब उन्हें कटी हुई चोटी दिखाई और महिला की हालत को लेकर बताया गया तो उसके बाद पुलिसकर्मियों ने कटी हुई चोटी जांच के लिए अपने कब्जे मेें ले ली। उसे फारेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा। उधर गांव गंगड़वा में भी चोटी कटने की सूचना मिलने पर थाना सदर पुलिस भी मौके पर पहुंची। चोटी कटने में क्या सच्चाई है या नहीं इसको लेकर भी पुलिस एंगलों को लेकर जांच कर रही है। पुलिस अधिकारी किसी भी प्रकार की अफवाहों पर ध्यान न देने का आग्रह कर रहे हैं।

सोशल मीडिया पर दिनभर रहती है चर्चाएं: किसी न किसी स्थान पर महिलाओं की चोटी कटने की सूचनाएं दिनभर सोशल मीडिया पर छाई रहती है। वाट्सअप ग्रुप व अन्य तरीकों से लोग इसको लेकर चर्चाएं करते रहते हैं। कुछ लोग इन्हें केवल अफवाहें व अंधविश्वास करार दे रहे हैं तो कुछ इनमें कुछ न कुछ सच्चाई भी होने की बात कह रहे हैं। अब तो हाल यह है कि हर घर में चोटी कटने की बात को लेकर परिवार के सदस्यों में जिरह बनी रहती है। यहां तक कि रिश्तेदार भी एक-दूसरे को फोन के माध्यम से इस तरह की चर्चाएं करते रहते हैं। कई-कई देर तक महिलाएं आपस में इस मुद्दे को लेकर चर्चा करती रहती हैं।

– प्रेम शर्मा