स्वाइन फ्लू प्रभावित राज्यों से आने वाले यात्री सतर्कता बरतें : रूस्तम सिंह


भोपाल : मध्यप्रदेश के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री रूस्तम सिंह ने स्वाइन फ्लू प्रभावित राज्यों से आने वाले लोगों से सतर्कता बरतने को कहा है। श्री सिंह ने आज यहां कहा है कि प्रदेश के निकटवर्ती महाराष्ट्र, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, दिल्ली और गुजरात में पिछले एक माह में स्वाइन फ्लू के प्रकरण बढ़े हैं। इसलिये प्रदेश के निकटवर्ती राज्यों से आने वाले यात्रियों को यदि स्वाइन फ्लू के लक्षण जैसे सर्दी, जुकाम, खाँसी, गले में खराश, सिरदर्द और बुखार के साथ यदि सांस लेने में तकलीफ हो तो तत्काल शासकीय अस्पताल में जाकर पल्स ऑक्सीमीटर से तुरन्त अपनी जाँच करवायें। यदि स्वाइन फ्लू बीमारी पायी जाती है, तो पूर्ण इलाज करवायें।

उन्होंने कहा कि स्वाइन फ्लू (एच1एन1) वायरस संक्रमण से होने वाली बीमारी है।सामान्यत: इसका संक्रमण संक्रमित व्यक्ति की छींक, खांसी आदि के सम्पर्क में आने से होता है। स्वाइन फ्लू का संक्रमण जुलाई से फरवरी माह के बीच ज्यादा सक्रिय रहता है। इस अवधि में लक्षण मिलने पर लापरवाही न बरतें, चिकित्सक की सलाह अवश्य लें। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्वाइन फ्लू, मलेरिया, डेंगू और चिकनगुनिया की प्रभावी रोकथाम के लिये रोज समीक्षा की जाकर उपयुक्त कदम उठाये जा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग, नगरीय प्रशासन, गैस राहत विभाग के साथ समन्वय स्थापित कर रोकथाम के प्रयास कर रहा है। लार्वा विनष्टीकरण के लिये गठित टीमें घरों में जाकर सर्वेक्षण कर रही हैं और प्रभावितों के घरों के आसपास विशेष सतर्कता बरती जा रही है।

log in

reset password

Back to
log in
Choose A Format
Poll
Voting to make decisions or determine opinions
Story
Formatted Text with Embeds and Visuals
List
The Classic Internet Listicles
Video
Youtube, Vimeo or Vine Embeds
Thanks for loving our story. Like our Facebook page to get more stories.

Send this to a friend