विधानसभा में गूंजा मराठा आरक्षण का मुद्दा, CM देवेंद्र ने कहा- ‘पिछड़ा वर्ग आयोग करेगा रिजर्वेशन का फैसला’


मराठा आरक्षण की मांग को लेकर मराठाओं के आंदोलन की गूंज बुधवार को महाराष्ट्र विधानसभा में सुनाई दी। महाराष्ट्र मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने विधानसभा में कहा कि ‘मराठाओं के आरक्षण को राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग के सामने रखा गया है। आयोग उन्हें आरक्षण देने की संभावनाओं का अध्ययन कर रिजर्वेशन देने पर विचार करेगी।’

इसके अलावा सीएम देवेंद्र ने मराठा छात्रों के लिए होस्टल बनाने के लिए जमीन और 5 करोड़ रुपये की अनुदान राशि देने का ऐलान किया। ये राशि हर जिले में महाराष्ट्र सरकार द्वारा दी जाएगी। सीएम देवेंद्र फड़णवीस ने आज मराठा मोर्चा और सभी राजनीतिक पार्टियों से भी इस आंदोलन को लेकर मुलाकात की थी।

Source

बता दें कि मराठा समुदाय ने मुंबई में आरक्षण समेत अपनी विभिन्न मांगों के लिए ‘सबसे बड़े’ मूक मराठा मार्च का आयोजन किया है। जिसकी वजह से मुंबईकरों को काफी परेशानी हो रही है। ऐसी पहली रैली पिछले साल 9 अगस्त को औरंगाबाद में निकाली गई थी। मराठा समुदाय के लोगों का ये मार्च भायखला में जीजामाता उद्यान से सुबह 11 बजे शुरू हुआ। मराठा क्रान्ति की इस बड़ी रैली में लाखों लोग शामिल हो रहे हैं। इसमें युवाओं और महिलाओं की भी बड़ी संख्या में भागीदारी दिखाई दी। ये रैली मुंबई के आजाद मैदान में खत्म होनी थी।