रामगढ़ में गोरक्षा के नाम पर हत्या, 12 के खिलाफ FIR


रामगढ़ (झारखंड) : झारखंड के रामगढ़ जिले में गुरुवार को मो. अलीमुद्दीन नामक एक शख्स को बीफ के शक में भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला। पुलिस ने इस मामले में 12 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। बताया जा रहा है कि मारे गए शख्स अलीमुद्दीन पर चोरी, हत्या और अपहरण जैसे संगीन मामले दर्ज थे। गुरुवार को एक ओर गुजरात से जब पीएम मोदी गोरक्षकों को नसीहत दे रहे थे। दूसरी तरफ झारखंड के रामगढ़ में कथित गोरक्षक पीएम की नसीहत को ठेंगे पर रख कानून अपने हाथ में लेते हुए सड़क पर खुद इंसाफ कर रहे थे। इंसाफ भी ऐसा कि सड़क का मंजर देख किसी की भी रूह कांप जाए।

Source

क्या था मामला

पुलिस के मुताबिक, मो. अलीमुद्दीन नामक शख्स वैन से मांस लेकर जा रहा था। गोरक्षकों को इसकी भनक लग गई। रामगढ़ के बाजारटांड के पास गोरक्षकों ने उसे रोक लिया। वैन में चार बोरियों में मांस मिलने से गोरक्षक भड़क गए और बिना किसी छानबीन के गाड़ी में आग लगा दी। इसके बाद शुरू हुआ मौत का खौफनाक खेल। गोरक्षकों ने बीच चौराहे ही अलीमुद्दीन को सजा-ए-मौत का फरमान सुना दिया। गोरक्षकों ने बेरहमी से उसकी पिटाई की, वीडियो बनाया। गोरक्षक उसे किसी भी कीमत पर छोड़ना नहीं चाहते थे। पुलिस मौके पर पहुंची और किसी तरह गोरक्षकों के चंगुल से उसे छुड़ाया गया।

Source

इलाज के दौरान अलीमुद्दीन की मौत

अस्पताल में इलाज के दौरान अलीमुद्दीन की मौत हो गई। अलीमुद्दीन की मौत के बाद अस्पताल के बाहर ही प्रदर्शन किया गया। रिम्स में पोस्टमार्टम के बाद शव को मृतक के गांव मनुआ फूलसराय लाया गया। पुलिस को यहां काफी विरोध का सामना करना पड़ा। परिजनों ने इंसाफ की मांग करते हुए शव लेने से इनकार कर दिया।  मध्यस्थता के दौरान तीन बार बातचीत विफल रही। दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के आश्वासन के बाद आखिरकार देर रात परिजन शव लेने को तैयार हुए। घटना के बाद से इलाके में स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। एसपी सिटी किशोर कौशल के मुताबिक, रामगढ़ जिले के 33 संवेदनशील इलाकों में सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है।

12 लोगों के खिलाफ केस दर्ज

शुक्रवार सुबह पुलिस ने इस मामले में 12 लोगों के खिलाफ नामजद केस दर्ज किया है।किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। हिंदूवादी संगठनों के कुछ नेता फरार चल रहे हैं। पुलिस उनकी तलाश में दबिश दे रही है। मुस्लिम संगठनों की ओर से शुक्रवार को रामगढ़ बंद का आह्वान किया गया है।

संगीन मामलों में आरोपी था मृतक

बताते चलें कि मारे गए शख्स अलीमुद्दीन पर हत्या और अपहरण के दो केस दर्ज थे। सीसीएल गिद्दी परियोजना के रीजनल स्टोर में हुई चोरी के मामले में भी उसे अभियुक्त बनाया गया था। गिद्दी पुलिस ने इस केस की छानबीन के बाद अलीमुद्दीन को चोरी हुए तांबे के साथ पकड़ा था।

राज्य में 2005 से है गौहत्या पर पूरी तरह पाबंदी

झारखंड में बीजेपी की सरकार है। पूरे राज्य में 2005 से गौहत्या पर पूरी तरह पाबंदी है। राज्य सरकार के एक हलफनामे के मुताबिक राज्य में किसी भी बूचड़खाने के पास लाइसेंस नहीं है। झारखंड में कथित गौहत्या और उसको लेकर इंसान की हत्या पर एक बार फिर रघुबर दास सरकार पर बड़े सवाल उठ रहे हैं। साथ ही सबसे बड़ा सवाल उन फर्जी गौरक्षकों पर भी उठ रहा है जो प्रधानमंत्री की बार-बार की चेतावनी के बावजूद सुधरने को तैयार नहीं है।

वीएचपी और बजरंग दल ने आज रामगढ़ में बंद बुलाया

घटना के बाद विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल ने आज रामगढ़ में बंद बुलाया है। गौमांस के आरोप में गोरक्षकों ने दो लोगों को पकड़ा और इतना पीटा कि एक की अस्पताल में मौत हो गई कल दिन के हंगामे के बाद रामगढ़ जिले में रात में तनाव बढ़ गया। रात में एक समुदाय के लोगों ने सरकारी बसों पर पथराव किया। तनाव को देखते हुए पूरे जिले में सुरक्षा के चाकचौबंद इंतजाम किए गए हैं।

पीएम मोदी की नसीहत बेअसर

Source

एक ओर जहां पीएम मोदी गोरक्षकों को कानून हाथ में न लेने की नसीहत दे रहे हैं, तो वहीं गोरक्षकों पर पीएम की नसीहत भी बेअसर साबित हो रही है। गुरुवार को पीएम ने भीड़ की हिंसा को गलत ठहराते हुए गुजरात में कहा था, ‘गोरक्षा के नाम पर हिंसा क्यों? मौजूदा हालातों पर पीड़ा होती है। गाय की सेवा ही गाय की भक्ति है। गोरक्षा के नाम पर हिंसा ठीक नहीं।को अहिंसा के रास्ते पर चलना होगा। गोभक्ति के नाम पर लोगों हत्या स्वीकार नहीं की जाएगी। अगर वह इंसान गलत है तो कानून अपना काम करेगा, किसी को भी कानून हाथ में लेने की जरूरत नहीं है। हिंसा समस्या का समाधान नहीं है।’

Choose A Format
Poll
Voting to make decisions or determine opinions
Story
Formatted Text with Embeds and Visuals
List
The Classic Internet Listicles
Video
Youtube, Vimeo or Vine Embeds
Thanks for loving our story. Like our Facebook page to get more stories.