असम में बाढ़ से मरने वालों की संख्या 60 हुई, 10 लाख से अधिक लोग प्रभावित


गुवाहाटी : असम में बाढ़ से एक और व्यक्ति के मरने और राज्य के 21 जिलों में 10 लाख से अधिक लोगों के इससे प्रभावित होने की रिपोर्ट के बीच जलस्तर थोड़ा नीचे आने से आज बाढ़ की स्थिति में मामूली सुधार देखा गया। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) की रिपोर्ट के अनुसार मोरीगांव जिले में एक व्यक्ति की मौत हो जाने से इस साल बाढ़ जनित घटनाओं में मरने वालों की संख्या बढ़कर 60 हो गयी है। बाढ़ से प्रभावित होने के बाद अकेले राज्य के गुवाहाटी में ही आठ लोगों की मौत हुई है।

एएसडीएमए ने बताया कि फिलहाल राज्य के धेमाजी, लखीमपुर, बिस्वनाथ, दरांग, नलबाड़ी, बारपेटा, बोंगईगांव, चिरांग, कोकराझार, धुबरी, दक्षिण सल्मारा, ग्वालपाड़ा, मोरीगांव, नगांव, कार्बी आंगलांग, गोलाघाट, जोरहाट, माजुली, शिवसागर, करीमगंज और कछार जिलों में 10 लाख से अधिक लोग प्रभावित हैं। काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में 38 प्रतिशत हिस्सा जलमग्न हो गया है जिसके कारण कुछ पशु भी मारे गये हैं और कुछ पास में ऊंचाई वाले स्थान पर चले गये हैं। एएसडीएमए ने बताया कि 1,512 गांव जलमग्न हैं और बरीक 50,000 हेक्टेयर में लगी फसल जलमग्न हो गयी है। एएसडीएमए ने बताया कि सरकार बाढ़ पीड़ितों के बीच चावल, दाल, नमक और सरसों तेल वितरित कर रही है।