हर घर में पहुंचेगा शुद्ध पेयजल


रांची : मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि 2020-21 तक झारखण्ड के हर घर में शुद्ध पेयजल पाइप लाइन के जरिये पहुंचाया जाएगा। जिला खनिज निधि के अन्तर्गत मुख्यमंत्री ग्रामीण जलापूर्ति योजनाओं का शुभांरभ किया जा रहा है। सरकार की योजना है कि न सिर्फ शहरी बल्कि सुदूरवर्ती ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित लोगों को भी शुद्ध पेयजल प्राप्त हो सके। मुख्यमंत्री चितरपुर के डीएवी स्कूल मैदान में आयोजित राज्य के विभिन्न जिलों में जिला खनिज निधि के तहत स्वीकृत योजनाओं का ऑन लाइन शिलान्यास कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि रामगढ, धनबाद, बोकारो व चाईबासा मेें पाईप लाईन के माध्यम से शुद्ध पेयजल पहुंचाने की योजना की शुरूआत कर दी गई हैं। उन्होंने राज्य मेें रामगढ को प्रथम ओडीएफ जिला बनने पर सभी जनप्रतिनिधियों व जनता को बधाई दी। उन्होंने कहा कि झारखण्ड देश में पहला राज्य है जो महिलाओं को उज्जवला योजना के तहत सिलेन्डर के साथ चूल्हा प्रदान कर रहा है।

श्री दास ने लोगों से जल संरक्षण व जल संवर्धन करने की अपील करते हुए कहा कि अपने खेत का पानी का संवर्धन करें ताकि पानी का समुचित उपयोग हो सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार युवाओं को डिग्री के साथ हुनरमंद बनाने के लिए कौशल विकास के क्षेत्र में 700 करोड़ रूपये खर्च कर रही है। 30 हजार से अधिक युवाओं को प्रशिक्षित किया जा रहा है।

आगामी छह महीने में 50 हजार युवाओं को नियुक्ति पत्र देने की योजना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि छोटी-छोटी बातों को लेकर साम्प्रदायिक तनाव नहीं होना चाहिए। गलत काम करने वालों की सूचना प्रशासन को दें और किसी भी हालत में कानून हाथ में न लें। सरकार गलत कार्य करने वालों को दंडित करेगी। जनसंवाद के माध्यम से अपनी बात रखें, अवश्य कार्रवाई होगी। इससे पूर्व माननीय मुख्यमंत्री ने मां छिन्नमस्तिका मंदिर में जाकर पूजा अर्चना की तथा झारखण्ड की खुशहाली व संमृद्धि की कामना की।

चितरपुर के डीएवी मैदान में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री रघुवर दास ने खनिज निधि फंड की 28 योजनाएं सहित 139 योजनाओं का ऑन लाइन शिलान्यास व उदघाटन किया। इन योजनाओं की कुल लागत 1,12,952.497 लाख रूपये है। खनिज निधि से कुल 1,06,343.148 लाख की योजनाएं रामगढ़, धनबाद, बोकारो और चाईबासा जिले में संचालित की जाएंगी।

लघु सिंचाई योजना से रामगढ., बोकारो, हजारीबाग की कुल 77 योजनाएं जिसकी लागत 4274.811 लाख है तथा रामगढ के विभिन्न विभागों राजस्व, पर्यटन, सूचना एवं जनसंपर्क, वाणिज्य कर, स्वास्थ्य, भवन, नगर विकास की 38 योजनाएं शामिल हैं, जिसकी लागत 2334.538 लाख है। कार्यक्रम में 33 लोगों को वन पटटा, स्वंय सहायता समूह को अनुदान सहित परिसंपतियों का वितरण किया गया।

वहीं जल सहिया को शॉल ओढाकर तथा चित्रकार को 1 लाख रूपये देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम को पेयजल व स्वच्छता मं़त्री चंद्र प्रकाश चौधरी, प्रधान सचिव एपी सिंह व उपायुक्त बी. राजेश्वरी ने भी संबोधित किया। मौके पर मांडू विधायक जयप्रकाश भाई पटेल, आयुक्त वंदना डाडेल, डीआईजी भीमसेन टूटी, एसपी कौशल किशोर सहित कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।