सड़क हादसों के दौरान 9 मरे, 20 घायल


लुधियाना-फिरोजपुर: पंजाब में रविवार के दिन अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में 9 लोगों के मारे जाने की खबर है जबकि इन्ही दुर्घटनाओं में दर्जनों घायल भी हुए है जिनमें 5 की हालत गंभीर बताई जा रही है। जानकारी के अनुसार पहली दुर्घटना रविवार की सुबह 4 बजे के करीब घटित हुई, जिसमें सरहदी शहर फिरोजपुर की करनाल कालोनी के रहने वाले एक परिवार में पति-पत्नी समेत 3 लोगों की मौत हुई है जबकि 5 लोग जख्मी बताएं गए है। एक अन्य मलसिया हादसे में जो गांव रूपेवाल मलसिया और लोहिया रोड़ पर घटित हुआ, उसमें आज दोपहर एक ट्रक और याइलो गाड़ी में हुई भयानक टक्कर में 2 बच्चियों समेत 4 लोगों की मौके पर मौत हो गई जबकि इस हादसे में 7 अन्य लोग जख्मी भी हुए है।

इसी प्रकार श्रद्धालुओं से भरा छोटा हाथी वाहन की एक रेहड़े से टक्कर हो गई, जिसमें 1 शख्स की मौत और 8 जख्मी हुए है। यह हादसा दीनानगर में घटित हुआ। जानकारी के मुताबिक श्रद्धालुओं से भरा छोटा हाथी वाहन पठानकोट से गुरदासपुर की ओर से आ रहे एक लकड़ी से भरे रेहड़े से टकरा गया, जिसमें सभी जख्मियों को बाद में सिविल अस्पताल गुरदासपुर में रैफर कर दिया गया जबकि एक व्यक्ति की मौत हुई है। उधर फिरोजपुर से प्राप्त जानकारी अनुसार करनाल कालोनी का एक परिवार माथा टेकने उपरांत छिन्नमस्तिका धाम से वापिस लौट रहे थे तो श्रद्धालुओं की अनियंत्रित एक्सयूपी महिन्द्रा गाड़ी फिरोजपुर-जीरा राजमार्ग स्थित गांव लोहगढ़ के पास सड़क किनारे लगे पेड़ से जा टकराई।

इस हादसे में दंपती समेत तीन लोगों की मौत हो गई जबकि पांच लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए। जिन्हें स्थानीय अस्पताल में प्राथमिक मेडिकल ट्रीटमेंट देने के बाद अमृतसर रेफर कर दिया। यह घटना रविवार सुबह चार बजे घटी। जानकारी के अनुसार सिंचाई विभाग में कार्यरत वरिन्द्र कुमार 40 पुत्र नानक चंद व अशोक कुमार अपने परिवार के साथ छिन्नमस्तिका माता चिंतपूर्णी धाम में माथा टेकने गए थे। रविवार की सुबह जब वह वापिस आ रहे थे तो उनकी महिंदरा गाड़ी अचानक अनियंत्रित हो गई और सड़क किनारे पेड़ से टकरा गई। इस घटना में वरिन्द्र कुमार, उसकी पत्नी पुष्पा 38 व मनीशा 35 पत्नी अशोक कुमार की मौत हो गई, जबकि वरिन्द्र के दो छोटे बच्चें लवप्रीत व लीजा, अशोक व उसके बच्चे परशिव व बेटी कशिश गंभीर रूप से जख्मी हो गई।

जख्मियों की हालत नाजुक होने के कारण इन्हें अमृतसर के अस्पताल में रेफर कर दिया। थाना कुलगढ़ी के जांच अधिकारी गुरदयाल सिंह अनुसार मृतकों के शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों के हवाले कर 174 की कार्रवाई की गई है। भारतीय वाल्मीकि धर्म समुदाय के शहरी प्रधान सुनील हंस ने बताया कि वरिन्द्र भावाधस की सिटी कार्यकारिणी का सक्रिय सदस्य था और हरेक कार्य में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेता था।

– सुनीलराय कामरेड