पुलिस और गैंगस्टरों के मध्य जबरदस्त भिड़ंत, एक काबू तीन फरार


लुधियाना-चोहला साहिब : बीती रात भारत-पाकिस्तान सरहदी जिले तरनतारन के गांव धुनढाय वाला में पंजाब पुलिस और कुख्यात गैंगस्टरों के बीच देर रात तक हुए मुकाबले में कुख्यात गैंगस्टर गगनदीप सिंह को काबू किया गया जबकि इसके तीन अन्य साथी अंधेरे का फायदा उठाते हुए फरार होने में कामयाब हो गए।

हिरासत में लिए गए गैंगस्टर गगनदीप सिंह से एक 12 बोर की दो नाली राइफल, 5 जिंदा कारतूस और 300ग्राम के करीब हेरोइन बरामद की गई है। जानकारी अनुसार पुलिस थाना चोहला साहिब के अंतर्गत हुए इस मुकाबले में चारों गैंगस्टर कई केसों में वांछित थे, क्योंकि हिरासत में लिए गए गैंगस्टर और फरार हुए साथियों पर पहले से ही कई मुकदमे दर्ज है। यह पुलिस को कई बार चकमा देकर फरार होते रहे है।

प्राप्त जानकारी अनुसार देर रात चोहला साहिब स्थित चौराहे के नाके पर पुलिस ने आती हुई एक कार को रूकने का इशारा किया। सफेद रंग की पीबी 08 सी.के-5311 कार का पुलिस ने जब पीछा किया तो उसमें सवार नौजवानों ने चोहला साहिब के एसएचओ और पुलिस पार्टी पर गोलीबारी शुरू कर दी। जिसकी खबर मिलते ही जिले के एसएसपी दर्शन सिंह मान की अगुवाई में पुलिस के उच्च अधिकारियों और कई थानों के पुलिस मुलाजिमों द्वारा गांव की घेराबंदी की गई। हालांकि देर रात तक गैंगस्टरों और पुलिस का मुकाबला चलता रहा। पुलिस ने गांव में आने-जाने वाली सारी सड़कों को सील कर दिया और किसी भी शख्स और वाहन को आने-जाने नहीं दिया जा रहा था।

पुलिस द्वारा मौके पर जवाबी कार्यवाही के दौरान कार में सवार गैंगस्टर और तस्कर गगनजीत सिंह को काबू किया गया। पुलिस के मुताबिक फरार हुए अन्य दोषी शख्सों में गुरबेज सिंह उर्फ बेजा, जंग सिंह उर्फ जगा पुत्र गुरनेक सिंह गांव राहल-चाहल और कंवलजीत सिंह निवासी मुक्तसर साहिब फरार होने में कामयाब रहें। फिलहाल पुलिस गगनजीत सिंह को हिरासत में लेकर अन्य दोषियों के संबंध में पूछताछ कर रही है।

– सुनीलराय कामरेड