अलगाववादियों की बंद की घोषणा करने के बाद श्रीनगर में लगाए गए प्रतिबंध


श्रीनगर : जम्मू & कश्मीर के राजधानी श्रीनगर में अलगाववादियों द्वारा बंद और स्थानीय संयुक्त राष्ट्र कार्यालय तक रैली निकालने की घोषणा करने के बाद अधिकारियों ने आज कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए श्रीनगर के कुछ हिस्सों में प्रतिबंध लगा दिए। अधिकारियों ने बताया कि श्रीनगर के 8 थाना क्षेत्रों में कड़े प्रतिबंध लगाए गए।

उन्होंने बताया कि खानयार, नौहट्टा, रैनावारी, एम आर गंज, सफाकदल, मैसूमा, कराल खुद और राम मुंशी सिंह थाना क्षेत्रों में प्रतिबंध लगाए गए हैं। अधिकारियों ने कहा कि अलगाववादियों के सोनावार स्थित भारत और पाकिस्तान में संयुक्त राष्ट्र सैन्य पर्यवेक्षक समूह (UNMOGIP) के कार्यालय तक रैली निकालने और बंद की घोषणा के बाद कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए एहतियाती तौर पर लोगों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगाए गए हैं।

उन्होंने बताया कि UNMOGIP कार्यालय की ओर जाने वाले मागो को बंद कर दिया गया है और किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए घाटी के सभी संवेदनशील स्थानों पर बड़ी संख्या में सुरक्षा बल तैनात कर दिए गए हैं। हुर्रियत कांफ्रेंस के दोनों भिन्न धड़ों के अध्यक्ष सैयद अली शाह गिलानी तथा मीरवाइज उमर फारूक और JKLF के प्रमुख यासीन मलिक सहित अलगाववादियों के बंद की घोषणा करने के बाद घाटी में सामान्य जन जीवन प्रभावित हुआ है।

अधिकारियों ने बताया कि अधिकतर दुकानें, पेट्रोल पंप और अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे। वाहन भी सड़क से नदारद रहे। उन्होंने बताया कि निजी शैक्षणिक संस्थान भी बंद रहे। अलगाववादियों ने आज लोगों से बंद रखने और नमाज के बाद संयुक्त राष्ट्र कार्यालय के बाहर धरना देने को कहा।