कानून-व्यवस्था को लेकर विशेष गठन किया जायेगा : श्रीकांत शर्मा


बलिया : उत्तर प्रदेश सरकार के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था एक बड़ा मुद्दा है और इसके मद्देनजर अपराध को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यालय में विशेष प्रकोष्ठ गठित किया जायेगा जिसकी मानीटरिंग स्वयं मुख्यमंत्री करेंगे। राज्य सरकार के प्रवक्ता एवं ऊर्जामंत्री श्री शर्मा ने आज यहां कहा कि कानून-व्यवस्था के मामले में और काम करने की आवश्यकता है।

इस मसले पर मुख्यमंत्री काफी गंभीर है और स्वयं इसकी मानीटरिंग कर रहे हैं। भाजपा सरकार ने 50 दिन में अपराध पर नकेल कसा है। आमजन की सुरक्षा सुनिश्चित हुई है और इसी का असर है कि अभद्र टिप्पणी करने वालों में खौफ पैदा हुआ है। समाजवादी पार्टी(सपा) पर कानून-व्यवस्था के मसले पर पलटवार करते हुए उन्होंने कहा कि अपने वाहन में अपराधियों एवं बलात्कारियों को बैठाने वाले सपा नेता आत्मचिंतन करें।

सपा नेताओं द्वारा इसपर की जा रही टिप्पणी पर उन्होंने उन्हें संयम रखने की सलाह दी। सहारनपुर एवं अन्य स्थानों पर हाल ही हुए उपद्रव पर श्री शर्मा ने ने कहा कि कानून -व्यवस्था के मामले में और काम करने की आवश्यकता है। इस मसले पर मुख्यमंत्री काफी गंभीर हैं और स्वयं मानीटरिंग कर रहे हैं। उन्होंने जानकारी दी कि लखनऊ में मुख्यमंत्री कार्यालय में अपराध नियंत्रण के उद्देश्य से विशेष सेल गठित होगा।

जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक अपने जिले की प्रत्येक घटना की जानकारी तथा की गई कार्रवाई का ब्यौरा इस प्रकोष्ठ में देंगे। गोरखपुर में भाजपा विधायक राधा मोहन दास अग्रवाल द्वारा प्रशिक्षु आईपीएस अधिकारी चारू निगम से किये गये बर्ताव के मुद्दे पर पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने जन प्रतिनिधियों को अधिकारियों खासकर महिला अधिकारियों से बातचीत में संयम बरतने को कहा है।

विधायक श्री अग्रवाल का बचाव करते हुए उन्होंने कहा कि स्थानीय जनता की शिकायत रही है कि पुलिस का व्यवहार कठोर रहा है। उन्होंने सहारनपुर के भाजपा सांसद पर कार्रवाई को लेकर पूछे जाने पर चुप्पी साध ली। श्री शर्मा ने कहा कि बिजली विभाग में ठेकेदारी प्रथा समाप्त की जायेगी।

उन्होंने दावा किया कि गर्मी के बावजूद भाजपा सरकार रोस्टर के हिसाब से बिजली उपलब्ध करा रही है। बिजली चोरी 24 घंटे बिजली आपूर्ति में सबसे बड़ा बाधक है। बिजली चोरी रोकने के लिए शीघ, अभियान शुरु किया जायेगा। ईमानदारी से विद्युत बिल जमा करने वाले उत्तर प्रदेश के 76 फीडरों में समय से पूर्व ही 24 घंटे आपूर्ति
दी जा रही है।

– (वार्ता)