आतंकी मूसा ने भारतीय मुसलमानों को बताया बेशर्म


जैसा की आप सब जानते है कि आतंकवादी अपने संगठन को बढ़ाने के लिए लोगो को पैसों व युवाओं को उनकी डिमांड पूरी करने का लालच दे कर उन्हें अपने गुट में शामिल करते है। फिर उनसे गलत काम यानी फायरिंग, किसी को मारना और देश में आतंक बढ़ाने का काम करवाते है। ऐसा ही कुछ हिजबुल मुजाहिदीन के पूर्व कमांडर और अब अल-कायदा का आतंकी जाकिर मूसा ने सोमवार को भारतीय मुसलमानों को इस्लामिक जिहाद में शामिल न होने पर उनकी आलोचना की है।

एक ऑडियो जारी करते हुए मूसा ने बताया कि भारतीय मुसलमान दुनिया में सबसे बेशर्म होते हैं। एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर के दो वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने ऑडियो टेप में आतंकी जाकिर मूसा की ही आवाज होने की पुष्टि की है। मूसा ने ये ऑडियो रिकॉर्डिंग टेलीग्राम और व्हाट्सऐप के जरिए से शेयर भी किए हैं। भारतीय मुसलमानों से अपने पहले सीधे संवाद में मूसा ने कहा कि यह लड़ाई केवल कश्मीर तक सीमित नहीं है, बल्कि यह इस्लाम और काफिरों के बीच लड़ाई है।

उसने ऑडियो क्लिप में बिजनोर जाने वाली चलती ट्रेन में एक मुस्लिम महिला के साथ पुलिस कॉन्स्टेबल द्वारा रेप, कथित गोरक्षकों द्वारा मुस्लिमों को पीट-पीट कर मारे जाने का हवाला दिया है। मूसा ने भारतीय मुसलमानों के लिए कहा कि ये दुनिया के सबसे बेशर्म मुस्लिम हैं। अपनी ऑडियो क्लिप में आतंकी मूसा ने ऐतिहासिक इस्लामिक युद्ध जंग-ए-बद्र का भी हवाला दिया है। उसने कहा, ‘वे लोग 313 थे और दुनिया पर राज कियाऔर अब हम करोड़ों की संख्या में हैं लेकिन गुलाम हैं।’