कब्जों के मामले बेवजह लंबित न रखें


इलाहाबाद: जिलाधिकारी संजय कुमार ने जनमिलन केन्द्र में आये लोगों की जनसमस्याओं को सुना। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए शिकायती प्रकरणों को समयबद्ध निस्तारित करने के साथ शिकातकर्ताओं को भी कृत कार्यवाही से अवगत कराने हेतु निर्देशित किया। डीएम ने कड़े शब्दों में अधिकारियों से कहा कि वरासत एवं अवैध कब्जों के मामले बेवजह लम्बित न रखे बल्कि स्थलीय निरीक्षण करते हुए प्रकरणों को शीघ्र निस्तारित करें। जनमिलन केन्द्र में आये बहादुरगढ़ परगना सिकन्दरा तहसील व थाना फूलपुर के निवासी ने अपने शिकायती प्रार्थना पत्र के माध्यम से जिलाधिकारी को तालाब की भूमि पर अवैध कब्जा किये जाने की शिकायती की, जिस पर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी फूलपुर को तत्काल तालाब की भूमि को खाली कराकर आख्या प्रस्तुत करने का निर्देश दिया। उन्होंने फूलपुर के ही एक अन्य अवैध कब्जे के प्रकरण में उप जिलाधिकारी फूलपुर को मौके पर जाकर कब्जा मुक्त कराने के निर्देश दिया।

राजरूपपुर निवासी के द्वारा लगभग 20 दिन से पानी न आने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने जीएम जल निगम को तत्काल पानी उपलब्ध कराने को कहा। करछना निवासी द्वारा आनलाईन शिकायत दर्ज किये जाने पर भी वरासत दर्ज न किये जाने पर जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारी को निर्देशित करते हुए वरासत दर्ज करने के निर्देश दिये। ग्राम मलखानपुर थाना सरायइनायत निवासी द्वारा जिलाधिकारी को बताया गया कि कब्जा करने के नियत से उसके घर के सामने गांव के ही लोगों द्वारा गोबर व कूडा फेका जा रहा है जिसपर जिलाधिकारी ने बीडीओ एवं थानाध्यक्ष को मौके पर जांच कर शिकायती प्रकरण को निस्तारित करने हेतु निर्देशित किया। जनमिलन केन्द्र में आये जीडी अंजनीश कुमार मिश्र केन्द्रीय रिर्जव पुलिस बल निवासी डोहरिया थाना मेजा ने बताया कि उसके घर के पास ही जिला परिषद सड़क की नाली व तालाब स्थित है जिस पर अवैध कब्जा किये जाने का प्रयास किया जा रहा है जिसपर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी एवं थानाध्यक्ष मेजा को मौके पर जाकर स्थलीय निरीक्षण करते हुए प्रकरण को निस्तारित करने का निर्देश दिया।

तहसील सोरांव के निवासी ने अवैध कब्जे की शिकायत पर डीएम ने उपजिलाधिकारी एवं थानाध्यक्ष को संयुक्त टीम के साथ जाकर अवैध कब्जा हटाने जाने की कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिये। तहसील करछना निवासी के वरासत न दर्ज किये जाने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी को वरासत दर्ज करने हेतु निर्देशित किया। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि शिकायकर्ता के शिकायती प्रार्थना पत्रों का अवलोकन गम्भीरता से करते हुए शिकायती प्रकरणों को समयबद्धता के साथ निस्तारित करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि शिकायतों के निस्तारण में किसी भी प्रकार की लापरवाही या हीलाहवाली कतई बर्दाश्त नहीं की जायेगी। उन्होंने कहा कि शिकायकर्ता को उनके द्वारा दिये गये मोबाईल नम्बर पर उनकी शिकायतों पर की गयी कार्यवाही से भी अवगत कराया जाये।

(बाबी)

Choose A Format
Poll
Voting to make decisions or determine opinions
Story
Formatted Text with Embeds and Visuals
List
The Classic Internet Listicles
Video
Youtube, Vimeo or Vine Embeds
Thanks for loving our story. Like our Facebook page to get more stories.