पेयजल संकट से जूझ रहे नागरिकों में फूटा आक्रोश


सम्भल: पेयजलापूर्ति के लिए सरायतरीन में संचालित तीन वाटर पम्पों में से दो पंप काफी समय से खराब पड़े हैं जिससे शहर की आधे से अधिक आबादी पेयजल संकट से जूझ रही है। लेकिन नगर पालिका प्रशासन को नागरिकों की समस्या की तनिक भी परवाह नहीं है। पानी का संकट झेल रहे नागरिकों का धैर्य शुक्रवार को फूट पड़ा। शहर कांग्रेस कमेटी के कार्यकर्ताओं के साथ उन्होंने वाटर टैंक पर पहुंचकर प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों का कहना था कि सरायतरीन में पानी की लाइन जगह-जगह से टूटी पड़ी है तथा कई जगह गडडे खुदे हुए हैं।

इतना ही नहीं वाटर सप्लाई के दो पंप भी खराब पड़े हैं जिससे लोगों को भरपूर मात्रा में पानी की आपूर्ति नहीं हो पा रही तथा पानी भी दूषित सप्लाई हो रहा है। उन्होंने प्रदर्शन करते हुए चेेतावनी दी कि यदि समस्या का शीघ्र समाधान नहीं हुआ तो धरना प्रदर्शन किया जायेगा। इस मौके पर तौकीर अहमद, हकीम जीलानी, डा. सलाउददीन, सैयद सादिक, सुहेल सैफी, असद अली, बबलू, दीपक, सोनू, अयाज, सलमान तुर्की, सुबहानी, अब्दुल रउफ, शिवकिशोर, मौ. नबी, जावेद अंसारी, नफीस, अयाज, मारूफ, अब्बास, वाहिद, साजिद, अब्दुल कासिद, यासीन मलिक, इंतजार, तफसीर आदि मौजूद रहे।