मोबाइल चोरी करने पर दी बिजली करंट की सजा


उत्तर प्रदेश में आजमगढ़ के सरायमीर के शेरवा गांव के एक वीडियो ने हड़कंप मचा रखा है। इस वीडियो में कुछ युवक एक युवक को तख्त पर बांध कर उसे प्रताडि़त कर रहे हैं। प्रताड़ना के क्रम में उसे बिजली का करंट भी देते हुए देखा जा सकता है। पुलिस ने इस वीडियो और पीडि़त की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर चार नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक युवक को मोबाइल चोरी के आरोप में बंधक बनाकर पीटने व करंट लगाने के मामले में 9 लोगों को नामजद किया गया है। चार की गिरफ्तारी के बाद बचे हुए पांच आरोपियों की तलाश में सरायमीर थाना पुलिस जुटी हुई है।

शेरवा गांव निवासी शिवकुमार 12 जुलाई को सरायमीर कस्बा स्थित युसूफ के कपड़े की दुकान पर काम मांगने के लिए गया था। बातचीत के दौरान ही नमाज का वक्त हो जाने पर युसुफ नमाज पढ़ने चला गया। शिवकुमार पर दुकान पर रखी युसूफ की मोबाइल चोरी का आरोप है। इसी मोबाइल की चोरी के मामले में युसूफ के परिवार के लोग गुरुवार को शिवकुमार को उठा कर अपने गांव लेकर चले गए। वहां उसकी जमकर पिटाई करने के साथ ही उसे करंट भी लगाया गया। करंट लगाने वालों ने इसका वीडियो भी बनाया।

बताया जा रहा है कि युसूफ के परिजनों की कैद से छूटने के बाद शिव कुमार ने किसी प्राइवेट अस्पताल में इलाज करवाया। इसी बीच युसूफ के परिजनों ने वीडियो को वायरल कर दिया। वीडियो वायरल होने के बाद शिवकुमार शनिवार की रात सरायमीर थाने पर पहुंचा और नौ लोगों के खिलाफ नामजद तहीर दी। नामजद किए गए लोगों में मुख्य रूप से शामिल अदनान, अतीक, राशिद व तारिक को पुलिस ने रविवार की सुबह कस्बा स्थित बस स्टैंड के पास से पकड़ लिया। फैज, अयूब, यूसुफ, शफीक व रिजवान फरार चल रहे हैं।

पुलिस इनकी तलाश में जुटी है। एसओ रामनरेश यादव ने कहा कि शिवकुमार ने मोबाइल चोरी जरूर किया, लेकिन इसकी शिकायत पुलिस से करने के बजाए आरोपियों ने स्वयं कानून को हाथ में लिया। एसओ रामनरेश यादव ने बताया कि अन्य आरोपियों को भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। हालांकि मेडिकल में युवक को बिजली करंट की बात की पुष्टि नहीं हो पाई है। पुलिस के अनुसार शिवकुमार की भी थाने में हिस्ट्री शीट खुली हुई है। उसके खिलाफ लूट, चोरी व गैंगस्टर के एक दर्जन से अधिक मुकदमें हैं। वे कई बार जेल जा चुका है।