सरकार इतिहास का भी पाठ्यक्रम बदलेगी


जौनपुर: प्रदेश के उप मुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री डा. दिनेश शर्मा ने कहा है कि अगले सत्र से प्रदेश के स्कूल, कालेजों में सही इतिहास पढ़ाया जायेगा। डा। शर्मा यहां टीडी कालेज में पूर्व मंत्री स्व0 उमानाथ सिंह की 23वीं पुण्यतिथि पर आयोजित समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। उन्होंने कहा, ‘मुगल शासक लुटेरे थे, वे हमारे पूर्वज नहीं हैं। अब यही इतिहास लिखा जाएगा।’ मुगल शासकों ने जो अच्छे काम किए, उनकी प्रशंसा होनी चाहिए लेकिन भारतीय संस्कृति विध्वंसक नहीं हो सकती। उन्होंने कहा कि सरकार इतिहास का भी पाठ्यक्रम बदलेगी। उन्होंने कहा कि इतिहास को भूलने से विकृति पैदा होती है। जिन मुगल शासकों ने गलत काम किया है, उन्हें ही लुटेरा मानते हैं।

डा। शर्मा ने कहा कि पाठ्क्रम में बदलाव किसी के दबाव में नहीं किया जा रहा है। सरकार इसके लिये एक समिति बनायेगी और शासकों के सकारात्मक पक्ष को सामने लाया जायेगा। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि मुगल साम्राज्य के दौरान कई ऐसे शासक आये जिन्होंने इस देश की अस्मिता के साथ-साथ कई मंदिरों एवं खजानों को केवल लूटने का ही काम किया था और उन्हें कभी माफ नहीं किया जा सकता। मुगल शासक बाबर और औरंगजेब को लुटेरा बताते हुए कहा कि इनके शासनकाल में देश के कई कोनों में मंदिरों एवं अन्य स्थानों पर रखे खजानों को लूटने का काम किया गया था। इतिहासकारों ने इन्हें महान बताकर देश की जनता के साथ मजाक किया है। जल्द ही सही इतिहास लोगों के सामने पेश होगा जिससे लोगों को यह पता चल सके कि यह महान नहीं बल्कि लुटेरे थे।