अंतर्राज्यीय वाहन गिरोह​ का पर्दाफाश


सम्भल: एआरटीओ कार्यालय से सांठगांठ कर लूट व चोरी के वाहनों के फर्जी कागजात तैयार कर उन्हें बेचने वाले अन्तर्राज्यीय गिरोह का पर्दाफाश कोतवाली पुलिस ने किया। लूट व चोरी की 11 लग्जरी कार समेत तीन लोग पकड़े गये जबकि 30 वाहनों की बरामदगी बाकी है। डीआईजी ओंकार सिंह ने जनपद की सदर कोतवाली में सनसनी खेज कांड का खुलासा करते हुए बताया कि सम्भल में अन्तर्राज्यीय वाहन चोर गिरोह काफी समय से सक्रिय था जो लूट व चोरी के वाहनों के कागज तैयार कर उन्हें बेच देता था। एआरटीओ कार्यालय से इस गिरोह ने 41 वाहनों का पंजीकरण कराया।

एआरटीओ छवि सिंह चौहान ने 03 दिसंबर 2016 को थाना कोतवाली में इस प्रकरण को लेकर अभियोग पंजीकृत कराया जिसके बाद मामले की जांच शुरू की गयी। कोतवाली पुलिस व एसओजी टीम ने 41 में से 11 वाहनों समेत तीन लोगों को कड़ी मशक्कत के बाद पकड़ लिया तथा इस प्रकरण के कुछ आरोपी पहले ही जेल जा चुके हैं। डीआईजी ने बताया कि अभियुक्तों ने पूछताछ में अहम जानकारी पुलिस को दी है। जिसके आधार पर अन्य अपराधियों की भी गिरफ्तारी में मदद मिलेगी। अभियुक्तगणों का चालान कर दिया गया है। खुलासे के दौरान एसपी व सीओ मौजूद रहे।

– शिवकुमार अग्रवाल