अवैध शराब कारोबारियों पर आबकारी विभाग की छोपमारी


कासगंज: जनपद में चल रहे कच्ची शराब के अवैध कारोबार पर अंकुश लगाने के लिए पुलिस एंव प्रशासन द्वारा संयुक्त रूप से कार्रवाई शुरू कर दी गई है। गुरुवार को प्रशासनिक अधिकारियों ने आबकारी विभाग की टीम एवं सोरों कोतवाली पुलिस को साथ लेकर क्षेत्र के तीन गांवों में ताबड़तोड़ दविशें दीं। इस दौरान तमाम कारोबारी पुलिस के हत्थे चढ़े। पुलिस ने कार्रवाई में बरामद हुए एक हजार लीटर लहन, ढाई सौ लीटर कच्ची शराब, उपकरण आदि भी नष्ट कराए। कारोबारियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज भी कराई गई है। गंगा की कटरी में बसे गांवों में पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों को कच्ची शराब की अवैध भट्ठियां धधकने की जानकारी मिल रही थी। इसके बाद एक योजनाबद्ध तरीके से नायब तहसीलदार एन. राम ने जिला आवकारी अधिकारी एमके गौतम, आबकारी निरीक्षक राजेश कुमार, सोरों थाना प्रभारी निरीक्षक, नगरिया पुलिस चैकी प्रभारी शिवम तोमर एव अन्य पुलिस बल को लेकर गांवों में दविशें देना शुरू कर दिया।

टीम ने एक-एक कर सोरों क्षेत्र के नगरिया, नगला पटिया, सीयपुर समेत अन्य गांवों में कार्रवाई की। इन गांवों में टीम को कच्ची शराब की अवैध तमाम भट्ठियां मिलीं, कहीं शराब तैयार हो रही थी तो कहीं तैयार हो चुकी थी। तहसीलदार एन. राम ने बताया कि कार्रवाई में करीब एक हजार लीटर लहन, ढाई सौ लीटर कच्ची शराब, तमाम उपकरण मिले हैं, जिन्हें पुलिस ने अवैध कब्जे मंे लेकर नष्ट कर दिया है। अवैध कारोबार में पुलिस ने प्रकाश पुत्र पातीराम, मोहरसिंह पुत्र फूलसिंह, मोतीहंस पुत्र नेवासे, नाशे पुत्र नाथूराम, अतरसिंह पुत्र राजवीर सिंह, बंटूसिंह पुत्र लालाराम निवासीगण नगरिया को गिरफ्तार किया है। जिनके खिलाफ सोरों कोतवाली में संबंधित धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।

– जितेन्द्र पाल