नशेड़ी जेलर पहुंचा जेल मंत्री से मिलने, थमाया 50 हजार रु. का पैकेट, FIR दर्ज


बाराबंकी : बाराबंकी का जेल अधीक्षक उमेश कुमार मंगलवार रात नशे में धुत होकर कारागार एवं लोक सेवा प्रबंधक के राज्यमंत्री जय कुमार सिंह जैकी से मिलने उनके डालीबाग स्थित आवास पर पहुंच गया। नशे में जेल अधीक्षक को देखकर मंत्री बिफर पड़े तो उसने 50 हजार रुपए का पैकेट थमा दिया। मंत्री ने सुरक्षाकर्मियों से जेल अधीक्षक को पकड़ने को कहा तो वह भाग निकला। फिलहाल मंत्री के शैडो की ओर से हजरतगंज कोतवाली में केस दर्ज कराया गया है। इंस्पेक्टर आनंद शाही का कहना है कि कार्रवाई की जा रही है।

मंगलवार रात मंत्री आवास पर थे कि तभी साढ़े 9 बजे बाराबंकी जेल अधीक्षक उमेश कुमार वहां आ पहुंचे.उसने मंत्री के स्टाफ से जरुरी काम का हवाला देते हुए मिलने की बात कही। इस पर मंत्री ने उसे कमरे में बुलवाया। जेल अधीक्षक को नशे में देखते ही मंत्री भड़क उठे। उन्होंने उमेश कुमार को फटकारते हुए सुरक्षाकर्मियों से बाहर निकलने को कहा।

इस पर जेल अधीक्षक ने जेब से लिफाफा निकलकर टेबल पर रख दिया। इस लिफाफे में 50 हजार रुपए थे। लिफाफा देखते ही मंत्री का पारा और चढ़ गया। उन्होंने जेल अधीक्षक को पकड़ने को कहा। इसके बाद उमेश कुमार वहां से भाग गया। मंत्री के एफआईआर दर्ज कराने के आदेश पर उनके शैडो सौरभ कुमार ने हजरतगंज कोतवाली में तहरीर दी।

कोतवाली प्रभारी आनंद कुमार शाही ने बताया कि तहरीर के आधार पर केस दर्ज कर लिया गया है। वहीं मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक जेल अधीक्षक ने कहा कि वो मंगलवार को लखनऊ गए ही नहीं। उनका कहना है कि उन्होंने 10-20 दिन पहले जेलर पर कार्रवाई की थी, ये मामला उससे जुड़ा और मेरे खिलाफ साजिश हो सकती है।