अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर कैदी भी करेंगे योगासन


लखनऊ : 21 जून 2017 को लखनऊ में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में जहां पूरा लखनऊ योग क्रियाएं करता दिखेगा, वही उत्तरप्रदेश के विभिन्न कारागारों में बंद कैदी भी योगासन करते नजर आएंगे। प्रदेश के कारागार राज्य मंत्री जय कुमार सिंह जैकी ने बताया कि राज्य के विभिन्न कारागारों में बंद करीब 92 हजार कैदी भी अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर जेल परिसर में योग करेंगे। इसका मुख्य उद्देश्य यह संदेश फैलाना है कि अगर रोज योग किया जाए, तो कैदी निरोग रहेंगे। साथ ही उनकी सोच में सकारात्मकता आएगी। उनकी ध्यान क्षमता में बढ़ोतरी होगी और उनके जेहन से आत्महत्या के विचार तथा निराशाजनक बातें निकाली जा सकेंगी।

उन्होंने यह भी बताया कि अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को लेकर कैदियों का प्रशिक्षण कार्यक्रम पहले ही संचालित किया जा रहा है। योग दिवस पर जेल के कैदी किसी विशेषज्ञ प्रशिक्षक के मार्गदर्शन में योग करेंगे। इस बीच प्रतापगढ़ में करीब 200 किसान टेलीविजन के माध्यम से प्रधानमंत्री के साथ-साथ योग करेंगे। कार्यक्रम के मुख्य आयोजक जानकी शरण पाण्डेय ने कहा, “प्रतापगढ़ में करीब 200 किसान योग करेंगे। कार्यक्रम स्थल पर एक टेलीविजन लगाया जाएगा, ताकि किसान ना सिर्फ उसे देखकर योगासन करें, बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से प्रेरणा भी लें।”

                                                                                          Source

उन्होंने बताया कि योग दिवस के मौके पर किसानों को यह शपथ भी दिलाई जाएगी कि वे रोजाना आधा घंटा योग करेंगे, ताकि वे सकारात्मक बनें और आत्महत्या का विचार कभी उनके मन में ना आए। भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि उनके संगठन के पदाधिकारी तथा अन्य किसान अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर राज्य के विभिन्न शहरों में सड़कों पर योग करेंगे। किसानों के प्रति सरकार के अनपेक्षित रवैये के खिलाफ प्रदर्शन के लिए ऐसा किया जाएगा। भारतीय किसान यूनियन के महासचिव धर्मेंद्र मलिक ने बताया कि उनके संगठन के कार्यकर्ता विरोधस्वरूप शीर्षासन करेंगे।

                                                                                            Source

समाजवादी पार्टी (सपा) प्रदेश में साइकिल यात्राएं निकालकर पर्यावरण संरक्षण का संदेश देते हुए योग दिवस मनाएगी। सपा प्रवक्ता राजेंद्र चैधरी ने बताया कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सभी पार्टी जिलाध्यक्षों तथा अन्य पदाधिकारियों से कहा है कि वे योग दिवस पर साइकिल यात्रा निकालें, ताकि इससे सेहत के साथ-साथ पर्यावरण संरक्षण का संदेश भी जाए। उन्होंने बताया कि सपा के नेता अपने-अपने जिला मुख्यालयों पर योग करेंगे जबकि कार्यकर्ता अपने विधानसभा क्षेत्रों में साइकिल चलाएंगे। इस बीच योगी आदित्यनाथ सरकार ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और मायावती समेत सभी राजनीतिक दलों के नेताओं को 21 जून को होने वाले योग दिवस समारोह का न्यौता देने का फैसला किया है।

राज्य सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी ने संबंधित अफसरों को सभी राजनीतिक दलों के नेताओं, पूर्व मुख्यमंत्रियों तथा विधानसभा अध्यक्षों को योग दिवस समारोह में शिरकत का न्यौता देने के निर्देश दिए हैं। मालूम हो कि अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर मुख्य कार्यक्रम लखनऊ स्थित रमाबाई अम्बेडकर मैदान में आयोजित होगा। प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में 55 हजार लोग योग कर सकेंगे। आयुष मंत्रालय द्वारा आयोजित किए जा रहे इस कार्यक्रम में केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह तथा अन्य केन्द्रीय और प्रदेश सरकार के मंत्रियो के  भी आने की संभावना है।