चंद्रशेखर पर प्रशासन ने लगाई रोक


उत्तर प्रदेश में सहारनपुर जिला प्रशासन ने जिले की संवेदनशील स्थिति को देखते हुए जेल में बंद भीम आर्मी सेना के संस्थापक दलित नेता चंद्रशेखर से मुलाकात करने पर नेता एवं अन्य लोगों पर रोक लगा दी है। जेल अधीक्षक सेवाराम ने बताया कि जेल मैनुअल के अनुसार बंदी के परिजन ही उससे मुलाकात कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि चंन्द्रशेखर से परिवार के सदस्यों के अलावा किसी अन्य व्यक्ति को मिलने की इजाजत नहीं है।

कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष इमरान मसूद, कांग्रेस विधायक नरेश सैनी एवं अन्य नेताओं के साथ चंद्रशेखर से जेल में मुलाकात करने गए थे लेकिन उन्हें बिना मुलाकात कराए ही वापस भेज दिया गया। इससे नाराज इमरान मसूद ने जिलाधिकारी प्रमोद पांडेय से मुलाकात कर अपनी नाराजगी जताई। जिलाधिकारी ने इमरान मसूद को बताया कि अभी किसी को भी चंद्रशेखर से मिलने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

इमरान मसूद ने बाद में संवाददाताओं से कहा कि सहारनपुर में उपद्रव के लिए मुख्य रूप से भारतीय जनता पार्टी के सांसद राघव लखनपाल शर्मा जिम्मेदार हैं। उनके खिलाफ मुकदमें दर्ज हैं इसके बावजूद पुलिस उन्हें गिरफ्तार नहीं कर रही है। शब्बीरपुर प्रकरण में दलितों के खिलाफ एकतरफा कार्रवाई की जा रही है।