गुणवत्ता के साथ करें वादों का निस्तारण


अमरोहा: जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल ने कहा कि सभी विभागों के अधिकारी एंव कर्मचारी शासन की मंशानुरूप कार्य करें तथा तहसील दिवस में दर्ज कराये गये वादों को गंभीरता से लेकर गुणवत्ता के साथ समय सीमा में निस्तारण करायें किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नही की जायेगी। तहसील दिवस में दर्ज 37 शिकायतों में से 4 का मौके पर ही निस्तारण करा दिया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल की अध्यक्षता में मंगलवार को नगर पंचायत कार्यालय नौगावां सादात परिसर में तहसील समाधान दिवस का आयोजन किया गया। जिलाधिकारी ने तहसील समाधान दिवस में आने वाली शिकायतों को गम्भीरता से सुना और तत्काल निस्तारण के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने कहा कि शिकायतों के निस्तारण का निर्धारित समय एक सप्ताह में ही करें। उन्होने कहा कि ऐसा कोई कार्य न करें कि कार्यवाही की जाये। जिलाधिकारी ने कहा कि शिकायतों का शीघ्रता से समाधान गुणवत्ता पूर्ण वास्तविकता से करना सुनिश्चित करें।

उन्होेेने कहा कि शिकायत का निस्तारण की समीक्षा मुख्यमंत्री स्तर से की जाती है और सम्बंधित शिकायत कर्ता से पूछा जाता है कि आप शिकायत के निस्तारण से संतुष्ट हैं अथवा नही। उन्होने शिकायत के निस्तारण में गुणवत्ता की कमी पाई जाती है तो सम्बंधित अधिकारी के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी। जिलाधिकारी ने सख्त निर्देश देकर कहा कि जो शिकायतें तहसील समाधान दिवस में आई हैं तथा जिन शिकायतों की जांच के निर्देश दिये हैं, उनकी जांच तत्काल करके आज ही रिपोर्ट प्रस्तुत करें, उनका निस्तारण शीघ्र अतिशीघ्र किया जाये। तहसील दिवस में राजस्व, पुलिस, विकास की, समाज कल्याण विभाग, शिक्षा, चकबंदी, आपूर्ति, नगर पालिका, पी0 डब्ल्यू0 डी0, ए0आर0टी0ओ0, विद्युत, पंचायत राज, आपूर्ति, जलनिगम , गन्ना विभाग और बैंक आदि सहित अन्य विभागों की शिकायतो सहित कुल 37 शिकायतें प्राप्त हुई, जिनमे से 4 शिकायत का निस्तारण मौके पर कर दिया गया। सर्वाधिक शिकायत विकास से संबंधित रही।

जिलाधिकारी ने कहा कि चकरोड, अवैध पटटा कब्जा, तालाब आदि पर अवैध कब्जों को तत्काल कब्जा मुक्त कराया जाये। उन्होने कहा कि अमरोहा मेे तालाबों के अवैध कब्जे की शिकायत पर कहा कि यथोचित जांच कराकर कब्जा मुक्त करायें अन्यथा कब्जा न हटाने पर एफ0आई0आर0 दर्ज करायें।जिलाधिकारी ने कहा कि शिकायतों का निस्तारण बारीकी से करें। उन्होने कहा कि शिकायत कर्ता को पूर्ण रूप से संतुष्टी मिलनी चाहिए, यदि शिकायत कर्ता निस्तारण से संतुष्ट नही है तो वह निस्तारण निष्क्रीय माना जाता है।तहसील दिवस में मुख्य विकास अधिकारी चन्द्रपाल सिंह, पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्र, उपजिलाधिकारी संजय कुमार सिंह, तहसीलदार, मुख्य चिकित्सा अघिकारी संजय कुमार जैन, जिला विकास अधिकारी मदन वर्मा सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

– चमन सिंह

Choose A Format
Poll
Voting to make decisions or determine opinions
Story
Formatted Text with Embeds and Visuals
List
The Classic Internet Listicles
Video
Youtube, Vimeo or Vine Embeds
Thanks for loving our story. Like our Facebook page to get more stories.