आंधी तूफान ने ली चार लोगों की जान


संतकबीरनगर : उत्तर प्रदेश के संतकबीरनगर जिले में आज तेज रफ्तार आंधी के चलते पेड़ गिरने से चार लोगों की मृत्यु हो गयी और 11 अन्य घायल हो गए। आंधी इतनी जबरदस्त थी कि टीनशेड, छप्पर के मकान ढह गए। सैकड़ो पेड़ धराशाई हो गए। आंधी तूफान और जोरदार बारिश ने जम कर तबाही मचायी। धनघटा क्षेत्र के रजनौली गांव निवासी कमलावती देवी (50) के ऊपर महुआ का पेड़ गिर जाने से उसकी मौके पर ही मृत्यु हो गई जबकि उसका पति रामजतन व परिवार के अन्य सदस्य रवि, रीता, राज घायल हो गए।

रानीपुर गांव निवासी उर्मिला देवी की मूड़ाडीहा गांव के पास पेड़ गिरने से मृत्यु हो गई। वह महुली की ओर से घर की ओर आ रही थी कि अचानक तेज आंधी देख वह एक पेड़ के नीचे बचने के लिए रूक गई। जिस पेड़ के नीचे वह रूकी अचानक तेज आंधी के चलते वह गिर गया जिसके नीचे दबने से उसने दम तोड़ दिया। पेड़ की चपेट में आने से दो अन्य घायल हो गए। सोनडीहा गांव निवासी जयहिन्द यादव (29) की बांस गिरने से मृत्यु हो गई।

वह सुबह शौच के लिए घर से बाहर निकला था। अचानक तेज आंधी देख बचने के लिए वह बांस के झुरमुट में दुबक गया। इस बीच एक बांस उसके ऊपर गिर गया जिससे उसकी मृत्यु हो गई। शनिचरा गांव निवासी चन्दा देवी के ऊपर जामुन का पेड़ गिरने से उसने दम तोड़ दिया। कटया गांव निवासी शांति के सिर पर टीन शेड गिरने से वह घायल हो गई। महुली निवासी सोनमती के ऊपर नीम का पेड़ गिर जाने से वह घायल हुई।

सोनमती अपनी बहन के घर मलौली आई थी। यहां अचानक तेज आंधीआंध के चलते नीम का पेड़ गिरने से वह उसकी चपेट में आ गई। हैसर बाजार में एक घर पर पेड़ गिरने से एक ही परिवार के तीन लोग घायल हो गए। सभी घायलों को उपचार के लिए निकटवर्ती अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

आंधी तूफान से मौत और तबाही की सूचना पर वरिष्ठ अधिकारियों ने मौके पर पहुंच कर हालात का जायजा लिया। जानमाल की क्षति का आंकलन करने में अधिकारी जुटे हुए है। पेड़ो के गिरने से बाधित यातायात व्यवस्था को सुचारू करने में पुलिस, वन विभागकर्मी और स्थानीय लोग जुटे हुए है।

– (वार्ता)

Choose A Format
Poll
Voting to make decisions or determine opinions
Story
Formatted Text with Embeds and Visuals
List
The Classic Internet Listicles
Video
Youtube, Vimeo or Vine Embeds
Thanks for loving our story. Like our Facebook page to get more stories.