लाखों श्रद्धालुओं ने गंगा में लगाई डुबकी


हरिद्वार: पूर्णिमा स्नान पर्व पर लाखों श्रद्धालुओं ने हरिद्वार के विभिन्न गंगा घाटों पर स्नान कर पुण्य कमाया। इस दाैरान श्रद्धालुओं ने ब्राह्मणों को दान कर घर परिवार में सुख समृद्धि की कामना भी की। वहीं, पुलिस प्रशासन द्वारा सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। हरकी पैड़ी पर सुबह से लोगों की आवाजाही शुरू हो गई थी। सुबह सूरज की किरण निकलते ही लोगों ने पवित्र गंगा में डुबकी लगानी शुरू कर दी।

श्रद्धालुओं ने गंगा में स्नान किया और सूर्य को अर्घ्य भी दिया। इसके बाद लोगों ने मंदिर में जाकर पूजा-अर्चना की। मान्यता है कि इस दिन पवित्र नदियों के जल में स्नान करने मात्र से आदमी के सारे पाप धुल जाते हैं। इस दिन लोग दूर-दूर से आकर पवित्र नदियों के जल में स्नान और मंदिरों में पूजा-अर्चना करके भगवान से परिवार की सुख समृद्धि की कामना करते हैं।

रेलवे स्टेशन व बस अड्डे पर श्रद्धालुओं की भीड़: पूर्णिमा स्नान पर हरिद्वार रेलवे स्टेशन व बस अड्डे पर श्रद्धालुओं की भीड़ रही। लंबी दूरी की ट्रेनों में पैर रखने की जगह नहीं थी। लिंक, गंगानगर और आगरा पैसेंजर में भीड़ दिखी। इन ट्रेनों में सवार होने को लेकर यात्री धक्कामुक्की करते दिखे। बुकिंग काउंटरों पर भी एक अदद टिकट को यात्रियों की भीड़ दिखी। भीड़ को नियंत्रित करने में सुरक्षा कर्मियों के पसीने छूट गए।

भीड़ को देखते हुए रेलवे की ओर से भीड़ नियंत्रण दल का गठन कर व्यवस्था को सुचारु किया गया। वहीं बसों से गंतव्यों को जाने वाले यात्रियों की भीड़ से बस अड्डा भरा रहा। बसों में यात्रियों को बैठने तक की जगह नहीं मिली। इससे यात्रियों को खड़े होकर ही सफर करना पड़ा। कई लोगों को बस के गेट पर लटककर भी सफर करते देखा गया।

– संजय चौहान