छोटे कारोबारियों की मदद को कमेटी बनाए सरकार


harish rawat

हल्द्वानी : उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा है कि नोटबंदी और जीएसटी से प्रदेश से छोटे कारोबारी बेहाल हैं। मामले में राज्य सरकार को कमेटी बनाकर छोटे कारोबारियों की का आंकलन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि छोटे कारोबारियों पर ध्यान नहीं दिया गया तो ट्रांसपोर्टर प्रकाश पांडे की तरह दूसरे कारोबारी भी आत्महत्या के लिए मजबूर होंगे। पूर्व विधायक स्व. रामदत्त जोशी के परिजनों से मिलने पहुंचे पूर्व सीएम हरीश रावत ने पत्रकारों से कहा कि भाजपा ने नोटबन्दी व जीएसटी लगाकर राज्य की आर्थिक स्थिति काफी कमजोर कर दी है।

जिससे छोटे व्यपारी व गरीब जनता सबसे अधिक परेशान हैं। मामले में राज्य सरकार को कमेटी गठित कर राज्य के हालत व छोटे व्यापारियों की स्थिति का आंकन कर उनकी मदद करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार ने इस और ध्यान नहीं दिया तो हल्द्वानी के ट्रांसपोर्टर प्रकाश पांडे की तरह कई अन्य कारोबारी भी इस तरह से दुस्साहस के लिए मजबूर होंगे। उन्होंने कहा प्रकाश पांडे की तरह रामनगर, सितारगंज व टनकपुर से कारोबारियों की आत्महत्या करने की धमकियां आ रही हैं। जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि प्रदेश का छोटा कारोबारी किस हाल में है। कारोबारी प्रकाश पांडे की घटना से सरकार को सबक लेना चाहिए।

अधिक जानकारियों के लिए यहां क्लिक करें।

– संजय तलवाड़