लगातार हो रही बारिश से बढ़ रहा मंदाकिनी का जलस्तर


रुद्रप्रयाग: लगातार हो रही बारिश से मंदाकिनी नदी का जलस्तर बढ़ रहा है। इससे नदी सोनप्रयाग में रौद्र रूप धारण कर रही है, लेकिन आपदा के चार वर्ष बीतने के बाद भी सोनप्रयाग कस्बे में मंदाकिनी नदी के तट पर सुरक्षा दीवार का निर्माण नहीं हो पाया है। इससे बरसात में एक बार फिर सोनप्रयाग कस्बे पर खतरा मंडराने के आसार बढ़ गए हैं। वर्तमान यहां पर तीन अरब के पुनर्निर्माण कार्यों के साथ सौ से अधिक दुकानें संचालित हो रही है। जिससे बरसात के समय मंदाकिनी नदी कभी भी कस्बे की ओर मुड़ सकती है।

वर्ष 2013 में आई केदारनाथ आपदा के दौरान मंदाकिनी नदी सोनप्रयाग की ओर प्रवेश कर गई थी। इससे सोनप्रयाग में कई होटल, लॉज, दुकानें क्षतिग्रस्त होने के साथ ही यहां खड़े सैकड़ों वाहन आपदा की भेंट चढ़ गए थे। आपदा के बाद यहां पर सिंचाई विभाग केदारनाथ की ओर से बाढ़ सुरक्षा दीवार का निर्माण कार्य शुरू किया गया था, लेकिन वर्ष 2015 में मंदाकिनी नदी में पानी बढ़ने से यह सुरक्षा दीवार पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त हो गई थी। इसके बाद अभी तक इस सुरक्षा दीवार का पर पुनर्निर्माण कार्य नहीं किया गया है।

प्रशासन एवं विभाग की ओर से इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। अब सोनप्रयाग कस्बे में मंदाकिनी नदी का जल स्तर बढ़ने से खतरा मंडरा सकता है। जिससे नदी का रुख कस्बे की मुड़ने से व्यापारियों के सामने काफी दिक्कतें सामने आ सकती है। स्थानीय व्यापारी दिनेश भट्ट ने बताया कि सोनप्रयाग में बनी सुरक्षा दीवार के क्षतिग्रस्त होने के बाद फिर यहां सुरक्षा दीवार का निर्माण नहीं किया गया है। इस संबंध में कई बार शासन-प्रशासन को भी अवगत कराया जा चुका है, लेकिन फिर भी कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है।