‘राम तेरी गंगा मैली’ की ‘गंगा’ बालीबुड से हुई अचानक लापता, जानें आज की डेट में कहां है?


 

नई दिल्ली:  मेरठ की लड़की यास्मीन जोसेफ उर्फ मंदाकिनी. जिन्हें 99 फीसदी भारतीय सिर्फ दो वजहों से याद करते हैं। एक, राज कपूर की फिल्म राम तेरी गंगा मैली का वह सीन, जिसमें वह एक सफेद साड़ी लपेटे झरने के नीचे नहा रही हैं। उस दिन कई पुरुषों को पता चला कि स्त्रियों के वक्ष होते हैं। उन्होंने आंखों को भरपूर फाड़ा, फिल्म की कैसेट का वह कोना घिस डाला। स्क्रीन के पास जा जाकर देखा और फिर कहा, हां, पर्दे पर नजर तो आ रहे हैं।चीप पर्वर्ट इंडियंस यू नो… बहरहाल, राज कपूर ने इसे कला कहा, लोगों ने कलाकारी और फिल्म कमाल की चली।

मगर मंदाकिनी को याद करने की दूसरी वजह फिल्मी नहीं है। यह वजह है देश के भगोड़े, खुद को एक नंबर का गुंडा समझने वाले आदमी दाउद इब्राहिम से कनेक्शन के चलते। लोग कानाफूसी करते हैं कि मंदागिनी दाउद की गर्लफ्रेंड थी। मंदाकिनी कहती हैं कि हम सिर्फ अच्छे दोस्त थे। मैं तो उनको पर्सनली जानती भी नहीं थी। मगर कम्बख्त लोग, ये फिर कहते हैं कि दाउद के चलते ही कई फिल्मों में मंदाकिनी को लिया गया और ये सब बातचीत शुरू कैसे हुई। एक तस्वीर के जरिए। जिसमें मंदाकिनी दाउद के साथ नजर आ रही हैं।

राम तेरी गंगा मैली फिल्म सुपरहिट रही जिसके बाद मंदाकिनी के दरवाजे पर नई फिल्मों के ऑफर्स की लाइन लग गई। आइये जानते हैं कि वह आज कैसी दिखती हैं और क्या कर रही हैं। मंदाकिनी ने फेसबुक पर तस्वीरें शेयर की हैं। हालांकि यह उनका वैरिफाइड अकाउंट नहीं है।

मंदाकिनी का जन्म एंग्लो-इंडियन परिवार में हुआ था। उनका नाम यासमीन जोसफ है। बॉलीवुड में मंदाकिनी की यात्रा बेहद छोटी रही। राजकपूर की ‘राम तेरी गंगा मैली’ उनकी पहली फिल्म थे। जल्द ही उन्होंने बॉलीवुड को अलविदा कह दिया।

मंदाकिनी का नाम अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के साथ भी जोड़ा गया, लेकिन मंदाकिनी की ओर से इस पर खुलकर कोई जवाब नहीं दिया गया। मंदाकिनी के साथ शारजहां में मैच देखते दाऊद इब्राहिम की तस्वीर ने भी खूब सुर्खियां बटोरी थी। मंदाकिनी ने इस पर कहा था वह उन्हें जानती हैं, लेकिन उनसे कोई कनेक्शन नहीं है।

‘राम तेरी गंगा मैली’ के साथ कुछ अन्य सफल फिल्मों में भी मंदाकिनी ने काम किया। जिनमें मिथुन चक्रवर्ती के साथ ‘डांस-डांस’, आदित्य पंचोली के साथ ‘कहां है कानून’ और गोविंदा के साथ ‘प्यार करके देखो’, हालांकि ये फिल्में राम तेरी गंगा मैली के सामने कहीं न टिकतीं। आग और शोला, प्यार करके देखो, तेजाब, अग्नि, नाग-नागिन, डांस-डांस जीते हैं शान से सरीखी फिल्मों में काम किया। उस दौर के लगभग हर नामी कलाकार के साथ मंदाकिनी दिखाई दीं।

बहरहाल, इन सबके उलट एक तथ्य यह भी है कि मंदाकिनी मर्फी बच्चे के साथ 1990 में ही शादी कर चुकी थीं। चौंकिए मत, हम बात कर रहे हैं डॉ. काग्युर टी रिनपोचे ठाकुर की। ठाकुर 1970, 80 के दशक में मर्फी रेडियो के प्रिंट ऐड में नजर आते थे। बर्फी फिल्म में इसी मर्फी बच्चे का जिक्र आता है। खैर, ठाकुर बाद में बौद्ध भिक्षु बन गए और बाद के भी बाद में मंदाकिनी के पति बन गए। मगर उन्होंने धार्मिक राह नहीं छोड़ी। इन दोनों के दो बच्चे हुए। बेटा रब्बील और बेटी राब्जे। रब्बील का 2000 में एक सड़क एक्सिडेंट में निधन हो गया।

अब मंदाकिनी और उनके पति यानी डॉक्टर साहब मुंबई में एक तिब्बतन हर्बल सेंटर चलाते हैं। इसके अलावा मंदाकिनी तिब्बत योगा भी सिखाती हैं। वह तिब्बत का हर्बल सेंटर भी चलाती हैं।

Choose A Format
Poll
Voting to make decisions or determine opinions
Story
Formatted Text with Embeds and Visuals
List
The Classic Internet Listicles
Video
Youtube, Vimeo or Vine Embeds
Thanks for loving our story. Like our Facebook page to get more stories.