इस एक्टर को मिली थी दर्दनाक मौत


बॉलीवुड के इस एक्टर के बारे में आप सुना ही होगा और कई फिल्मों में देखा भी होगा। इस एक्टर ने खौफ और दहशत पैदा कर दी थी अपनी एक्टिंग से जिसकी वजह से असल जिदंगी में लोग काफी डरते भी थे। हम बात कर रहे हैं एक्टर रामी रेड्डी की जिन्होंने साल 1990 में आई फिल्म ‘प्रतिबंध’ में विलेन का किरदार निभाया था।

रामी रेड्डी ने इस फिल्म में इतना अच्छा अभिनेय किया था कि यह किरदार यादगार बन गया था। रामा रेड्डी ने इस फिल्म के बाद से फिल्मों में विलेन के ही रोल किए थे। रामी रेड्डी ने अपने अभिनेय से लोगों में इतना खौफ पैदा कर दिया था कि जब भी वह फिल्मी पर्दे पर आते थे तो लोग डर जाते थे।

रामी रेड्डी का हर फिल्म में किरदार इतना भयानक और क्रूर होता था कि लोग डर ही जाते थे। बता दें कि यह एक्टर जितना फिल्मी पर्दे पर खौफनाक और डरावना था उसकी असल जिदंगी काफी ही दर्दनाक थी।

रामी रेड्डी ने 90 के दशक में फिल्मी पर्दे पर विलेन के किरदार निभाए थे और उनका फिल्मी कैरियर काफी ऊंचा जा रहा था। कई फिल्मों के ऑफर आने लगे थे। लेकिन ऐसा वक्त भी आ गया था जब इस एक्टर को बॉलीवुड ने भुला दिया था। फिर उसके बाद रामी रेड्डी साउथ की फिल्मों में काम करने लगे थे।

बता दें कि रामी रेड्डी ने अपने फिल्मी कैरियर की शुरूआत तेलुगु फिल्मों से की थी। रामी रेड्डी को जब बॉलीवुड की फिल्मों के ऑफर मिले तो उन्होंने अपने आप को नहीं रोका था। वह अपने आपको बॉलीवुड में फेमस करने के लिए आ गए थे। लेकिन रामी रेड्डी को बॉलीवुड में बेरुखी हाथ लगी तो वह वापस साउथ में चले गए।

साउथ फिल्मों में दुबारा से वह औदा मिल गया था रामी रेड्डी को वह फिर से पॉपुलर विलेन बन गए थे। रामी रेड्डी ने बाद में डायरेक्शन और प्रोडक्शन में भी अपना हाथ आजमाया लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली थी। अचानक से रामी रेड्डी की जिदंगी में ऐसा मोड़ आया था और भयानक बीमारी ने उन्हें अपनी चपेट में ले लिया था। रामी को लीवर की बीमारी हो गई थी।

रामी रेड्डी ने सभी से कन्नी काट ली और पब्लिक जगहों से भी उन्होंने दूरी बना ली। सालों बाद जब रामी एक इवेंट के दौरान सभी के सामने आए तो हर कोई चौंक गया। रामी काफी कमजोर और दुबले-पतले हो गए थे। कहा जाता है कि रामी को कैंसर हो गया था जिसकी वजह से उन्हें पहचानना मुश्किल हो गया था। सिर्फ हड्डियों को ढांचा-भर रह गए थे रामी रेड्डी…और फिर एक दिन रामी रेड्डी अपने परिवार को रोता-बिलखता छोड़ गए।