मंदिर पहुंचते ही उड़े पुजारी के होश


आजकल तो वैसे भी चोरी की बहुत सारी वारदातें सामने आती रहती हैं। चोर अब तो मंदिरों जैसे धार्मिक स्थानों को भी नहीं छोड़ते हैं। ऐसी ही एक ओर खबर सामने आई है। कस्बे के एक मंदिर में शनिवार को चोरों ने मंदिर का ताला तोड़कर चोरी कर ली। यह खबर है सीताराम मंदिर की जहां पर चोरों ने इसे अपना निशाना बनाया। चोरों ने मंदिर से चांदी के छत्र और बाकि समय चुरा ले गए। मंदिर के गर्भ गृह के दरवाजे को भी चोरों ने तोडऩे की कोशिश भी की। लेकिन उस दरवाजे का अंदर से ताला नहीं टूट सका जिसकी वजह से चोर अष्टïधातु की मूर्ति को नहीं चुरा सके।

source

इस घटना की जानकारी का पता तब चला कि जब मंदिर के पुजारी रवि खेस्तिफा सुबह चार बजे मंदिर में पूजा अर्चना के लिए उन्होंने मंदिर गए तो तब उन्होंने दिखा की मंदिर के कमरों के ताले टुटे हुए पाए गए। कमरों में जो बाक्स थे उनके तालों को भी चोरों ने तोड़ा था और उसमें रखे चांदी के 2 छत्र, एक चांदी का गिलास, आरती करने की कांसे की थाली व पीतल का घडिय़ाल चुरा कर ले गए। मंदिर के बाहरी ताले को तो चोरों ने तोड़ लिया था लेकिन वह अंदर के ताले को नहीं तोड़ पाए थे। पुलिस को जब वारदात के बारे में बता दिया था उसके भी एक घंटे बाद भी मौके पर नहीं पहुंची। पुलिस के न पहुुंचने पर ग्रामीण आक्रोशित हो गए और उन्होंने पुलिस के खिलाफ विरोध प्रर्दशन किया। उसके बाद जब पुलिस आई तो उसने पूरे घटना स्थल का मुआयना किया और मामले की जांच शुरू कर दी है।

सीताराम मंदिर हुई यह तीसरी वारदात है

सीताराम मंदिर में यह चोरी तीसरी बार हुई है इससे पहले चोरों ने 2011 में और 2009 में चोरी करने की कोशिश की थी परतुं चोर अपने इसमें सफल नहीं हो पाए थे। चोरों ने पहले बालाजी मंदिर से त्रिशूल चुराया और फिर चोर सीतारामजी मंदिर में आए और चोरी की वारदात को अंजाम दिया। मंदिर के दरवाजे पर ही त्रिशूल फंस गया जिसकी वजह से मंदिर का दररवाजा चोर तोड़ नहीं पाए।