हार्ट अटैक आने से पहले मिलते हैं यह संकेत


दुनिया में बहुत सी मौत सी मौत का कारण दिल का दौरा पडऩे से होता है। बहुत से लोग दिल के दौरे के पडऩे को ऐसे ही नजर अंदाज कर देते हैं। आज के समय के भागदौड़ भरी जिदंगी में लोगों की दिनचर्या काफी बदल चुकी है। जो हमारे शरीर में बढ़ रही बीमारी का कारण भी बनती जा रही है। क्योंकि शरीर में होने वाले असंतुलित आहार का सेवन करते रहने और अनियमित दिनचर्या से बीमार इंसान की संख्या बढ़ता जा रहा है। जिसमें कि दिल की बीमारी जैसी समस्यां अपनी पैर पूरी तरह से पसार लिए है।

इस बीमारी के कुछ कारण हमें समय से पहले सचेत करते है जिस पर जागरूक होना काफी जरूरी हो गया है। हमारे शरीर में हार्ट अटैक किसी भी समय अचानक आ सकता है। आपको बता दें कि इसकी एक खास बात यह है कि यदि इसके लक्षण को ढग़ से समझ लिया जाए तो आपकी जान असानी से बच सकती है। शायद आपको इस बात की खबर न हो लेकिन आपको बता दें कि हार्ट अटैक आने से एक महीन पहले से ही इसके असर दिखना शूरू हो जाता है। ऐसे ही कुछ लक्षण आपको बता दें कि जिनको अनदेख कर देने से काफी मुश्किल हो सकती है। तो आइए चालिए जानते हैं कौन से हैं वो लक्षण।

नींद में परेशानी

हार्ट अटैक की एक ओर चेतावनी है आपकी नींद में खलल पड़ते रहना। आपका सबकाॅऩ्शियस माइंड आपको कहता रहतो है कि कुछ गड़बड़ है। आप रात में बार-बार जागते हैं, बार-बार बाथरूम जाना पड़ता है या रात में जोर से प्यास लगती रहती है। अगर आपको नींद की इस परेशानी का तार्किक कारण न पता हो तो डाॅक्टर से सलाह लें।

सीने में असहजता

अगर आपके सीने में होने वाली असहजता दिल के दौरे के लिए जिम्मेदार लक्षणों में से एक है। सीने में होने वाली दर्द आपको हार्ट अटैक का शिकार बना सकता है। अगर आपको सीने में किसी दबाव या जलन की शिकायत हो तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

अपच

हार्ट अटैक का एक ओर लक्षण अपच यानी इनडाइजेशन भी है। हालांकि मसालेदार खाने से आपके पेट में गड़बड़ी हो सकती है लेकिन अगर ज्यादा अपच हो तो यह सामान्य नहीं है।

सांस लेने में दिक्कत

अगर सांस लेने में कोई परेशानी हो रही है तो यह भी हार्ट अटैक की निशानी हो सकती है। दिल के ठीक ढंग से काम न कर पाने की वजह से फेफड़ों तक उतनी मात्रा में आॅक्सीजन नहीं पहुंचती जिसकी उसको चाहिए, जिससे सांस लेने में कठिनाई होने लगती है।

खूब थकान

बिना किसी मेहनत के ही थकान हो तो समझ लीजिए कि हार्ट अटैक हो सकता है। कई बार अच्छी नींद लेने के बाद ही आलस औऱ थकान का अनुभव करते हैं और दिन में भी नींद आती है।